स्नेपडील कंपनी है नुकसान में, कहेगी एम्प्लॉयी को बाय-बाय

दिल्ली: कुछ महीने पहले खबर आई थी फ्लिपकार्ट के कारण बहुत से कर्मचारियों की नौकरी खतरे में पढ़ गई थी, इस बार खबर आई है की स्नेपडील जैसी इ कॉमर्स कंपनी लगभग 600 लोगो को नौकरी से निकालने वाली है. स्नैपडील अपने विभिन्न कंपनी के विभिन्न क्षेत्रों ई-कॉमर्स, लॉजिस्टिक्स और भुगतान संचालन से अगले कुछ दिनों में लगभग 600 कर्मचारियों की छंटनी करेगी.

बता दे की कंपनी ने अंतिम बार अपने कर्मचारियों की संख्या 8,000 बताई थी. नोट बैन के कारण हर सेक्टर में छटनी हुई, स्नैपडील इस समय अपनी कंपीटिटिव कंपनियों अमेजन और फ्लिपकार्ट के साथ टफ कॉम्पेटीशन का सामना कर रही है. मार्केट से नए इन्वेस्टमेंट के लिए स्नेपडील काफी मेहनत कर रही है.

स्नैपडील के अनुसार , कंपनी भारत की सबसे बड़ी फायदे वाली इ कॉमर्स कंपनी बनने की दिशा में काफी म्हणत कर रही है, इसलिए जरुरी है की बिजनेस के सभी हिस्सों में क्षमता और कुशलता बढ़ाएं जिससे कि हम अपने कस्टमर्स को वैल्यू दे सके. हमने अच्छी क्वालिटी वाले बिज़नेस की और बढ़ने के ;लिए अपनी टीम को नए सिरे से तैयार कर रहे है. कंपनी ने अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए कई ठोस कदम उठाए है, फलस्वरूप डिलीवरी लागत 35 प्रतिशत कमी आई है. कंपनी को उम्मीद है की उसके रेवेन्यू में 3.5 गुणा की बढ़ोतरी होगी.

ये भी पढ़े 

फ्लिपकार्ट दे रही है iPhone 7 पर भारी डिस्काउंट

Lenovo z2 plus स्मार्टफोन को खरीद सकते हो मात्र 849 रुपये में

ओला-उबर के ड्राइवरों ने किया हड़ताल, परेशान हुए लोंग

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -