धूम्रपान ना करने से नहीं होता कैंसर का खतरा कम!

धूम्रपान ना करने से नहीं होता कैंसर का खतरा कम!

धूम्रपान करना स्वास्थ्य के लिए होता है हानिकारक होता है ये तो सभी जानते हैं, लेकिन धूम्रपान न करने से कैंसर होने का खतरा कितना बढ़ जाता है क्या आपको पता है? कहा जाता है कि स्मोकिंग से कैंसर का खतरा बढ़ता है लेकिन ना करने कितना खतरा बढ़ता है इसके बारे में आपको नहीं पता होगा. आज हम इसी की जानकारी आपको देने जा रहे हैं. 

धूम्रपान करने वाले ये सोचते हैं कि सिगरेट में कमी लाकर वे किसी भी खतरे को कम कर सकते हैं. तो ये  आपकी गलतफहमी हैं. जो लोग धूम्रपान करते हैं, उन्हें अच्छी तरह पता है कि ऐसा करना उनके लिए कैंसर का कारण बन सकता है लेकिन कुछ लोग इस गलतफहमी में भी जीते हैं कि कम धूम्रपान से वे इस खतरे से बच सकते हैं. दरअसल, एक शोध में पता चला है कि धूम्रपान करने वालों में से एक तिहाई यह मानते हैं कि दिन में कम से कम 10 सिगरेट पीने से उन पर फेफड़े के कैंसर का खतरा नहीं है.

फ्रांस के मार्सेली शहर में स्थित नार्ड अस्पताल के शोधकर्ता लॉरेंट ग्रेइलियर मानते हैं कि लोगों की इस सोच के कारण ही दुनिया भर में धूम्रपान बना हुआ है. लॉरेंट का शोध फ्रांस के 40 से 75 साल की उम्र के 1602 लोगों पर किए गए प्रयोग पर आधारित है. इनमें से 40 फीसदी लोग यह मानते हैं कि दिन में 10 सिगरेट पीना खतरनाक नहीं है.

चिंता और तनाव से ग्रसित लोगों के लिए फायदेमंद है रेड वाइन

मधुमेह रोगियों की आंखों को धुंधलेपन से बचाने के हैं ये चार उपाय

चेहरे को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो दिन में इतनी बार करें वॉश