लैपटॉप-मोबाइल को सुरक्षित रखने के लिए इन बातो का रखे ध्यान

लैपटॉप-मोबाइल को सुरक्षित रखने के लिए इन बातो का रखे ध्यान

स्मार्टफोन या टैबलेट में आपने सिक्योरिटी सॉफ्टवेयर और वीपीएन इंस्टॉल जरूर किया होगा, तो आपको इस बात का ध्यान रखन होगा कि वे आपकी डिवाइस का ख्याल रखें. तो आपको उनका भी ख्याल रखना होगा, आप इस तरह अपनी डिवाइस और सिक्योरिटी को दुरुस्त रख सकते हैं.डाटाबेस को खोलकर देखिए कि उसमें कोई अपडेट मैसेज है या नहीं, यदि आपको मैसेज नहीं दिखता है. तो मैनुअल तरीके से अपडेट के लिए चेक कीजिए, अपने सभी सिक्योरिटी प्रोडक्टस को अपडेट के लिए चेक करके उन्हें अपडेट कीजिए. हम आपको बता दे कि आपकी सर्तकता है, हैकर्स के खतरे से आपकी डिवाइस को सुरक्षित रख सकती है. 

Samsung Galaxy S10 को आधी से भी कम कीमत में खरीदने का सुनहरा अवसर, जानिए ऑफर

यदि आपको नही पता कि एंटीवायरस काम काम कर रहा है? आप अपनी डिवाइस की प्रोटेक्शन चेक करने के लिए एंटी-मैलवेयर टेस्टिंग स्टैंडर्ड ऑर्गेनाइजेशन की वेबसाइट पर जाकर सिक्योरिटी फीचर्स चेक कीजिए, यहां अलग-अलग टेस्ट को रन कीजिए। जो कई पहलूओं की मैलवेयर प्रोटेक्शन के खिलाफ जांच करते हैं.

एक SMS से पता करें कि आपका स्मार्टफोन असली है या नकली

आपके सामान्य इंटरनेट कनेक्शन को वेरिफाई वीपीएन वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क एनक्रिप्टेड कनेक्शन में बदलकर उसकी सुरक्षा करता है, आप इस चीज की जांच कर सकते हैं कि कहीं आपका वीपीएन लीक तो नहीं हो रहा है. अपने वीपीएन को ऑन कीजिए और अपना असल आईपी देखने के लिए 'व्हाट इज माई आईपी' सर्च कीजिए.आपको एक अलग आईपी एड्रेस दिखेगा जब आप वीपीएन को कनेक्ट करने के बाद सर्च करेगें.दी गयी जानकारी के अनुसार अपने लैपटॉप फोन मे आसानी से मालवेयर का पता कर सकते है साथ ही उन पर नजर भी रख सकते है.

फेसबुक ऐप पर मेसेंजर चैट फीचर हुआ ऐड, ये होगी सुविधा

Whatsapp पर भेज सकते हैं एक बार में 30 ऑडियो फाइल, जानिए पूरी स्टेप

LG ने पेटेंट करवाया रोल होने वाला डिवाइस, जल्द होगा लॉन्च