गवर्नर पर गैर जरुरी विवाद न करें

नई दिल्ली : रिजर्व बैंक के गवर्नर के ऊपर गैर जरुरी विवाद पैदा नहीं किया जाना चाहिए. यह बात प्रमुख उद्योग संघ ने शुक्रवार को कही. एसोचैम के अनुसार गवर्नर ने देश में आर्थिक स्थिरता लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. गवर्नर ने भारत को उभरते बाजारों में सर्वोत्तम बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. जब तक वर्तमान आरबीआई गवर्नर कोई गम्भीर अपराध न करे तब तक उन्हें निशाना नहीं बनाया जाना चाहिए.

एसोचेम ने कहा आरबीआई गवर्नर पद पर किसी को नियुक्त करना या फिर नियुक्त करना सरकार का विशेषाधिकार है, लेकिन फिलहाल इसको लेकर मीडिया में जो बयान आ रहे हैं वे वित्तीय प्रणाली के लिए शुभ नहीं है. बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने आरबीआई के गवर्नर रघुराम राजन के खिलाफ तीखी बयानबाजी कर उन्हें हटाने के लिए पीएम को पत्र लिखा.

वित्त मंत्री जेटली ने गुरूवार को राजन पर व्यक्तिगत हमले की निंदा की. एसोचैम के अनुसार राजन का विश्व स्तरीय अर्थ शास्त्री के रूप में बेदाग इतिहास रहा है. वस्तु निर्यात में गिरावट होने के बाद भी देश के चालू खाता घाटे में रिकार्ड गिरावट दर्ज की गई. भारतीय रुपए का प्रदर्शन भी अच्छा रहा है. राजन द्वारा रेपो दर 150 आधार अंक घटाई जिसका फायदा बैंकों ने ग्राहकों को नही दिया.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -