इस तरह बढ़ाए अपनी कार की माइलेज, 10 प्रतिशत तक की होगी बचत

इस तरह बढ़ाए अपनी कार की माइलेज, 10 प्रतिशत तक की होगी बचत

अगर आपकी कार पेट्रोल या डीजल खाती है? अगर इसका जवाब हां है, तो हमारी यह खबर आपके काम आ सकती है. आज हम आपको बताएंगे कि वो कौन से तरीके हैं, जिनकी मदद से आप अपनी नई से लेकर पुरानी कार के माइलेज को 5 से 10 फीसद तक बढ़ा सकते हैं. दरअसल आपने देखा होगा कि कई बार जब आप कार खरीदते हैं, तब कंपनी उसकी माइलेज का एक आंकड़ा बताती है, लेकिन साल भर के बाद आपकी कार बहुत कम माइलेज देने लगती है. उदाहरण के लिए मान लीजिए आपने Mahindra, Tata या Maruti Suzuki की कोई कार खरीदी. अब इस कार पर कंपनी आपको 28 kmpl के माइलेज का वादा कर रही है, लेकिन कार खरीदने के साल भर के अंदर आप यह देखते हैं कि यही कार आपको 18kmpl का माइलेज दे रही है. ऐसे में आपने कभी सोचा है कि इसका कारण क्या है? कंपनी ने झूठा वादा किया? या आपकी कार में कुछ खराबी है? या फिर आप कुछ ऐसी गलती कर रहे हैं जिससे कम माइलेज मिल रही है. आइये जानते है कि कार का माइलेज किस तरह बढ़ाए.

Pulsar NS200 दिवाली पर हो सकती है लॉन्च, ये हो सकती है स्पेसिफिकेशन

आपकी जानकारी के लिए अगर आपके कार का एयर फिल्टर जाम हो गया है तो इसका सीधा असर आपकी कार के माइलेज पर पड़ेगा. दरअसल इंजन के एयर फिल्टर में धूल, गंदगी या मिट्टी के कण आकर चिपत जाते हैं जिससे यह जाम हो जाता है. इसका असर कार की इंजन पर पड़ता है जिससे इंधन की खपत बढ़ जाती है. ऐसे में एयर फिल्टर को चेक कराते रहें.अगर आप कम हवा पर कार चला रहे हैं तो इसका सीधा मतलब है कि आपकी कार पेट्रोल या डीजल की ज्यादा खपत कर रही है. कार के टायर्स में बैलेंस हवा रहने पर आप करीब 3 फीसद तक माइलेज को कंट्रोल कर सकते हैं. इसके अलावा अच्छा होगा कि आप अपनी कार के टायर्स में Nitrogen हवा को भरवाएं. यह नार्मल हवा के मुकाबले ज्यादा अच्छा होता है. कम दूरी में तेज एक्सलरेट या जल्दी-जल्दी ब्रेक लगाने पर इंधन की ज्यादा खपत होती है. ऐसा वाक्या अक्सर ट्रैफिक जाम या रेड लाइट पर देखने को मिलता है, जहां जल्दबाजी में चक्कर में अक्सर लोग तेज एक्सलररेटर का इस्तेमाल करते हैं. ऐसे में उन्हें बार-बार ब्रेक लगाना पड़ता है जिससे कार की माइलेज घटती है.

'रॉयल एनफील्ड' की ये मोटरसाइकिलें होंगी जबरदस्त, ये है रिपोर्ट

सबसे ज्यादा माइलेज 45 से 55 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पर मिलता है. वहीं, अगर आप कार को ज्यादा तेज या ज्यादा धीरे चलाते हैं. तो माइलेज कम मिलता है.तय समर पर कार की सर्विस कराने से इसके सभी पार्ट्स और इंजन अच्छे से काम करते हैं. वहीं, अगर आप समय पर सर्विस नहीं कराते हैं तो आपकी कार की  के साथ इसकी माइलेज पर भी बुरा असर पड़ता है. सीधा सा मामला है कि जितनी तेज आप कार को चलाएंगे उतना ही ज्यादा पावर इंजन लेगा. इसका सीधा असर आपके कार की माइलेज पर पड़ता है.

भारत में CFMoto की ये बाइक जल्द होगी प्रदर्शित

Harley Davidson अपनी बाइक पर दे रहा 1 लाख का भारी डिस्काउंट

आज Honda Activa 6G हो सकती है लॉन्च, BS-6 इंजन से होगी लैस