दवा बनाने के काम आता है सीताफल, शोध में हुआ खुलासा

दवा बनाने के काम आता है सीताफल, शोध में हुआ खुलासा

फलों का सेवन हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है. ऐसे ही सीताफल के बीज रोगों से लड़े की क्षमता बढ़ाते है. सीताफल के सेवन से कैंसर और डायबिटीज को नियंत्रित किया जा सकता है. सीताफल के बीज पर किए गए शोध को विदेशों में भी सराहा गया है. शोध के आधार पर दवा तैयार करने पर भी जोर दिया गया है. जी हाँ, सीताफल खाने के कई और भी लाभ होते हैं जिनके बारे में हम बताने जा रहे हैं. इस बारे में शोध भी हुआ है जिससे आपको ये पता चलेगा जिसके बारे में आप नहीं जानते होंगे.

शोध में हुआ खुलासा

इसके बाद दवा बनाने की प्रक्रिया शुरू होगी. बताया जाता है कि छत्तीसगढ़ के पेंड्रा, अंबिकापुर, कांकेर और रायपुर के कुछ सीताफलों के बगीचों से लाए गए बीजों पर शोध किया गया. सबसे पहले शोध का परिणाम आंध्र प्रदेश के गीतम विश्वविद्यालय को भेजा गया. 

* सीताफल के बीज में कई गुण है. इसमें प्राकृतिक एंटी ऑक्सीडेंट, विटामिन-सी बहुत अधिक मात्रा में है.विटामिन-सी से शरीर में इम्यून सिस्टम को मजबूती मिलती है. 

* यह ऊर्जा का अच्छा स्रोत है, इसमें विटामिन-बी भी होता है. उन्होंने बताया कि सीताफल का बीज खून की कमी यानी एनीमिया से बचाता है, बीज में मौजूद मैग्नीशियम शरीर में पानी संतुलित करता है, सोडियम और पोटेशियम संतुलित मात्रा में होता है. 

* यह खून का बहाव यानी ब्लड प्रेशर में अचानक होने वाले बदलाव को नियंत्रित करता है. साथ ही शुगर की मात्रा को नियंत्रित करता है.

 

इन टिप्स से रखें अपने बच्चों को स्मोकिंग से दूर

एड़ियों के दर्द को इस तरह कर सकते हैं दूर

इस आसान से कर सकते हैं अपनी हकलाहट को दूर