'दिल का बुरा नहीं था टीटू..', जिसे निहंगों ने काटकर टांग दिया, जानिए उसकी पत्नी ने क्या कहा ?

नई दिल्ली: सिंघु बार्डर पर सुबह शव मिलने के बाद पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है। मृतक युवक की शिनाख्त पंजाब के तरन तारन जिले के निवासी लखबीर सिंह उर्फ टीटू के रूप में हुई है। इस मामले में पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया। पुलिस का कहना है कि जब वह मौके पर पहुँची तो निहंग शव को घेरकर खड़े हुए थे। पुलिस ने उनसे पूछताछ करने का प्रयास किया, मगर उन्होंने सहयोग नहीं किया। लखबीर के साथ जो क्रूरता की गई, उससे संबंधित कई वीडियो सामने आए हैं। यह घटना आधी रात को हुई, मगर पुलिस को इसकी जानकारी सुबह पाँच बजे दी गई।

लखबीर सिंह की पत्नी जसप्रीत कौर ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि पाँच वर्ष पूर्व भले ही वह टीटू को छोड़ चली गई थी, मगर लगाव आज भी था। फोन पर टीटू बेटियों से बातें किया करता था। उन्होंने कहा कि टीटू दिल का बुरा आदमी नहीं था और ना ही उसने कभी किसी दूसरे का बुरा चाहा था। टीटू कि पत्नी बताती है कि नशा ही एक ऐसी आदत थी, जिसे वह छोड़ नहीं पाया। उन्हें पूरा विश्वास है कि उसने यह हरकत किसी के बहकावे में आकर ही की होगी। उसे किसी ने अपनी बातों में फँसाया है। किसी ने नशे या पैसों का प्रलोभन देकर ही यह काम करवाया है। उनका कहना है कि टीटू कभी यह कदम नहीं उठा सकता। उन्होंने सरकार से माँग की है कि यदि टीटू को किसी ने बहकाया है ताे उसे सामने लाना चाहिए। टीटू से ऐसी हरकत करवाने वाले को सामने लाकर असलियत का पता लगाया जाए। पति की हत्या की सूचना मिलने के बाद जसप्रीत कौर अपनी छोटी बेटी के साथ ससुराल आई है। पत्नी गुमसुम घर में एक कोने पर पलंग पर बैठी हुई है।

बता दें कि लखबीर सिंह तीन बेटियों का पिता था। वह मरिटल पंजाब के तरनतारन के गाँव चीमा खुर्द का रहने वाला था। लखबीर सिंह की पत्नी जसप्रीत उसके नशे की लत के कारण पाँच साल पहले मायके चली गई थी। जसप्रीत के साथ ही उनकी तीनों बेटियाँ भी रहती हैं। तीनों बेटियों में कुलदीप 8 वर्ष, सोनिया 10 वर्ष और तानिया 12 वर्ष की है। पुलिस के अनुसार, लखबीर का कोई क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं है, ना ही किसी सियासी दल से वह जुड़ा हुआ है। दलित लखबीर सिंह मजदूरी कर अपना जीवन यापन करता था। मृतक की बहन राज कौर का कहना है कि चीमा में आने के बाद उसका निहंगों के साथ उठना-बैठना होता रहता था। वह 13 अक्टूबर को मंडी जाने का कह कर घर से निकला था। उसे शक है कि कोई उसे पैसों का प्रलोभन देकर या बहकावे से दिल्ली साथ ले गया होगा।

भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में जबरदस्त इजाफा, 639.51 अरब डॉलर पर पहुंचा आंकड़ा

जापान के प्रधानमंत्री ने संसद का निचला सदन किया भंग, जल्द होंगे चुनाव

मुंबई के रियल्टी और अन्य पर छापे के बाद आईटी विभाग ने 184 करोड़ रुपये के काले धन का लगाया पता

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -