सिख युवक ने पेश की इंसानियत की मिसाल, पगड़ी उतार बचाई चार जान

अमृतसर : कहा जाता है की सभी मजहबो में इंसानियत का मजहब सबसे ऊपर होता. बस इसी बात की मिसाल एक सिख युवक ने पेश की, उसने अपनी दिलेरी दिखाते हुए अपने मजहब की फ़िक्र किये बिना अपनी पगड़ी उतारकर संगरूर में एक नहर में डूब रहे चार युवकों को मौत के मुंह में समाने से बचा लिया.

सर्राफा बाजार इलाके के रहने वाले 18 से 25 वर्ष की उम्र के चार युवक पिछले शुक्रवार को नहर में गणपति विर्सजन के लिए सुनाम गांव के पास सुलर घाट में गए थे. उसी समय पानी की एक धार के कारण उनका संतुलन बिगड़ गया. पुलिस और प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक नहर के किनारे बैठे इंद्रपाल सिंह ने युवकों को डूबते देखा. उसने अपनी पगड़ी उतारी और उसे युवकों की तरफ फेंका और उसकी मदद से उन्हें बाहर निकाला.

इस पूरी घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर फैलने के बाद खबर चर्चा में आयी. बचाए गए युवकों की पहचान इंद्रपाल सिंह, जीवन सिंह, कमलप्रीत सिंह और इंद्र तिवारी के रूप में हुई है. इंद्रपाल ने बताया कि सिंह ने पहले नहर के किनारे पड़े एक तार की मदद से उन्हें बचाने का प्रयास किया लेकिन वह टूट गया जिसके बाद उसने अपनी पगड़ी उतारी जिसके सहारे हमें बचाया.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -