सुबह से ही खराब था सिग्नल! बंगाल ट्रेन हादसे पर सामने आई बड़ी अपडेट

सुबह से ही खराब था सिग्नल! बंगाल ट्रेन हादसे पर सामने आई बड़ी अपडेट
Share:

कोलकाता: रेलवे के एक सूत्र के अनुसार, पश्चिम बंगाल में रानीपतरा रेलवे स्टेशन और चत्तर हाट जंक्शन के बीच स्वचालित सिग्नलिंग प्रणाली सुबह 5.50 बजे से खराब थी, जहां एक मालगाड़ी ने सियालदह कंचनजंगा एक्सप्रेस को पीछे से टक्कर मार दी थी। सूत्र ने मीडिया को बताया कि, "ट्रेन संख्या 13174 (सियालदह कंचनजंघा एक्सप्रेस) सुबह 5.50 बजे स्वचालित सिग्नलिंग विफलता के कारण रानीपतरा रेलवे स्टेशन और चत्तर हाट के बीच रुकी रही थी।" 

एक अन्य रेलवे अधिकारी के अनुसार, जब स्वचालित सिग्नलिंग सिस्टम विफल हो जाता है, तो स्टेशन मास्टर टीए 912 नामक एक लिखित प्राधिकरण जारी करता है, जो चालक को दोष के कारण खंड पर सभी लाल सिग्नल पार करने के लिए अधिकृत करता है। सूत्र ने कहा कि,  "रानीपतरा के स्टेशन मास्टर ने ट्रेन नंबर 1374 (सियालदह कंचनजंगा एक्सप्रेस) को टीए 912 जारी किया था।" उन्होंने कहा, "लगभग उसी समय, एक मालगाड़ी, जीएफसीजे, सुबह 8.42 बजे रंगापानी से रवाना हुई और 13174 के पिछले हिस्से से टकरा गई, जिसके परिणामस्वरूप गार्ड का कोच, दो पार्सल कोच और एक सामान्य सीटिंग कोच पटरी से उतर गया।"

रेलवे बोर्ड ने अपने शुरुआती बयान में कहा कि मालगाड़ी के चालक ने सिग्नल का उल्लंघन किया। इसने कुल मरने वालों की संख्या पाँच  बताई। हालाँकि, कुछ स्थानीय अधिकारियों ने कहा कि यह 15 तक हो सकता है। सूत्रों ने कहा कि जांच से ही पता चल सकेगा कि क्या मालगाड़ी को खराब सिग्नलों को तेज गति से पार करने के लिए टीए 912 दिया गया था या फिर यह लोको पायलट था, जिसने खराब सिग्नल के नियम का उल्लंघन किया था। यदि यह दूसरा विकल्प है, तो ड्राइवर को प्रत्येक खराब सिग्नल पर ट्रेन को एक मिनट के लिए रोकना होगा तथा 10 किमी प्रति घंटे की गति से आगे बढ़ाना होगा। लोको पायलट संगठन ने रेलवे के इस बयान पर सवाल उठाया है कि चालक ने लाल सिग्नल का उल्लंघन किया।

भारतीय रेलवे लोको रनिंगमैन संगठन (आईआरएलआरओ) के कार्यकारी अध्यक्ष संजय पांधी ने कहा, "लोको पायलट की मृत्यु हो जाने और सीआरएस जांच लंबित होने के बाद उसे जिम्मेदार घोषित करना अत्यधिक आपत्तिजनक है।" रेलवे बोर्ड की अध्यक्ष जया वर्मा सिन्हा के अनुसार, यह टक्कर इसलिए हुई क्योंकि एक मालगाड़ी ने सिग्नल की अनदेखी की और कंचनजंगा एक्सप्रेस को टक्कर मार दी, जो अगरतला से सियालदह जा रही थी।

लोकसभा अध्यक्ष का पद अपने पास ही रखेगी भाजपा! सहयोगी दलों में से बना सकती है डिप्टी स्पीकर

मेडक में काटने के लिए रखी 70 गाय ! प्रदर्शन कर रहे भाजयुमो कार्यकर्ता पर चाकू से हमला, पुलिस कर रही जांच

'RSS की तरह काम कर रहे..', NCERT पर क्यों भड़की कांग्रेस ? अयोध्या विवाद से जुड़ा है मामला

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -