टिकट नहीं मिला तो सिद्धू पर भड़के सीएम चन्नी के भाई, बोले- 'सिद्धू ने हाईकमान को भ्रमित किया'

चंडीगढ़: पंजाब के फतेहगढ़ साहिब जिले की बस्सी पठाना सीट से चुनाव लड़ने की घोषणा करने वाले सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के भाई डॉ. मनोहर सिंह ने प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू पर हमला बोला है। आजाद प्रत्याशी के रूप में लड़ने की घोषणा करते हुए डॉ. मनोहर ने कहा कि मैंने मेरिट के आधार पर टिकट की मांग की थी। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के भाई के रूप में मैंने कोई मांग नहीं की थी। किन्तु हाईकमान की तरफ से अनदेखा कर दिया गया। डॉ. मनोहर सिंह चन्नी ने बताया कि मैं इसलिए यहां से निर्दलीय ही उतरने का निर्णय लिया है क्योंकि लोग ऐसा चाहते हैं। 

वही नवजोत सिंह सिद्धू पर निशान साधते हुए डॉ. मनोहर चन्नी ने कहा कि हाईकमान को मेरे बारे में भ्रमित किया गया। इसीलिए ऐसे हालत उत्पन्न हो गए। नवजोत सिंह सिद्धू उन नेताओं में से एक हैं, जिन्होंने बिना हाईकमान की अनुमति के ही बस्सी पठानिया में मौजूदा MLA को ही टिकट दिए जाने की घोषणा कर दी। मुझे टिकट न प्राप्त होने से लोग निराश हैं। इसके अतिरिक्त लोगों के गुस्से का एक कारण यह भी है कि जिसे टिकट प्राप्त हुआ है, उसने क्षेत्र में कोई काम नहीं किया है। डॉ. मनोहर ने कहा कि मैं सिद्धू या फिर कांग्रेस से नहीं लड़ रहा हूं, मगर मैं जनता की लड़ाई लड़ रहा हूं। 

मुख्यमंत्री के भाई ने कहा कि मैंने चन्नी को समझाने की कोशिश की थी कि जो कुछ हुआ है, वह सही नहीं रहा। मैं अब भी हाईकमान का सम्मान करता हूं। कांग्रेस की तरफ से वन फैमिली, वन टिकट का फॉर्मूला लागू किए जाने को लेकर भी डॉ. मनोहर ने हमला बोला। उन्होंने कहा कि पहले भी ऐसे कई अवसर आए हैं, जब कांग्रेस में एक ही परिवार के दो लोगों को टिकट दिए गए हैं। मगर यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि मुझे अनदेखा किया। 

यूपी चुनाव में पीएम मोदी ने खुद संभाला मोर्चा, टिकट बंटवारे पर बैठक में हुए शामिल

यूपी चुनाव: क्या अयोध्या में 'मोदी की काशी' जैसा करिश्मा कर पाएंगे योगी आदित्यनाथ ?

फर्म में निवेशकों को गुमराह करने के आरोप में इस कंपनी के संस्थापक को 26 सितंबर को होगी जेल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -