एंटी स्ट्रेस दवाओं के हो सकते हैं सेहत पर घातक परिणाम

एंटी स्ट्रेस दवाओं के हो सकते हैं सेहत पर घातक परिणाम

हर चीज़ की दवाई आने लगी है जिसके इस्तेमाल से आप अपनी उस परेशानी को भूल जाते हैं. लेकिन हर बात के दवाओं का सेवन करना आपके लिए हानिकारक भी होता है. अगर आप तनाव, अवसाद या एंग्‍जायटी से बचने के लिए दवा खा रहे हैं, तो सावधान हो जाएं, यह कई तरह से आपकी सेहत को प्रभावित करती है. कई लोग स्ट्रेस दूर करने के लिए कुछ दवाओं का सेवन करते हैं. पर जान लें वो दवाएं आपके लिए कितनी हानिकारक होती हैं. 

क्‍यों लेनी पड़ती हैं ये दवाएं
विशेषज्ञ मानते हैं कि तनाव का कुछ स्‍तर हमारी परफॉर्मेंस के लिए फायदेमंद होता है. पर तनाव का यही स्‍तर जब अपेक्षा से अधिक बढ़ जाता है तो यह हमारी रूटीन लाइफ को प्रभावित करने लगता है. इस काम करने की क्षमता भी प्रभावित होती है. इससे ग्रस्‍त व्‍यक्ति में मूड स्विंग इतने ज्‍यादा होने लगते हैं कि उसे खुद पता नहीं चलता कि वह कब खुश हो जाएगा और कब उदास हो जाएगा. ऐसे में डॉक्टर्स दवाई तो लिखते हैं पर इसके साइड इफेक्ट्स भी होते हैं. 

मूड बिगड़ने लगता है
जब आप मू‍ड स्विंग से बचने के लिए एंटी स्‍ट्रेस दवाओं को लंबे समय तक लेते हैं, तब आपका मूड इन्‍हीं दवाओं पर निर्भर रहने लगता है. दवा लेने से मस्तिष्‍क में एंटी स्‍ट्रेस हॉर्मोन रिलीज होते हैं. जिससे आप खुश अनुभव करते हैं. पर फि‍र आपके दिमाग की संरचना इस तरह की बन जाती है कि आप बिना दवा के खुश नहीं रह पाते.

ब्‍लड प्रेशर
कुछ लोगों को एंटी स्‍ट्रेस या एंटी डिप्रेशन दवा लेने के कारण ब्‍लड प्रेशर लो होने की शिकायत होने लगती है. ये दवाएं आपको कूल करने की कोशिश करती हैं. ताकि आप बिना तनाव के अपना दिन बिता सकें. पर इसका नकारात्‍मक असर ब्‍लड प्रेशर पर पड़ता है. यह कभी-कभी इतना ज्‍यादा लो रहने लगता है कि आपको इसके लिए अलग से दवा लेनी पड़ती है.

एंटी स्‍ट्रेस दवाओं से हो सकता है लो कॉन्‍फीडेंस
स्‍ट्रेस हॉर्मोन केवल आपको तनाव ही नहीं देता, बल्कि बेहतर काम करने के लिए एनर्जी और प्रेरणा भी देता है. जब आप मस्तिष्‍क को दवाओं के माध्‍यम से तनाव मुक्‍त करने की कोशिश करते हैं, तब आपका आत्‍मविश्‍वास का स्‍तर भी गिरने लगता है. इसलिए डॉक्‍टर इन दवाओं पर लंबे समय तक निर्भर न रहने की सलाह देते हैं.

हार्ट हेल्‍थ
एंटी स्‍ट्रेस और एंटी डिप्रेशन दवाओं से अधिकांश लोगों की हार्ट हेल्‍थ प्रभावित होती है. इसका संबंध लो ब्‍लड प्रेशर से भी है. इन दवाओं पर लंबे समय त‍क निर्भर रहने के कारण हृदय का स्‍वास्‍थ्‍य भी प्रभावित होता है. खासतौर से पुरुषों में इस दौरान हृदय गति में उतार-चढ़ाव देखने में आया है.

सिर दर्द करती हैं एंटी स्‍ट्रेस दवा 
तनाव के कारण सिर दर्द होना सबसे पहला संकेत है. जब भी सिर दर्द यानी तनाव महसूस करते हैं, तो दवा लेने लगते हैं. पर जब आपको ये दवा नहीं मिलती तो मस्तिष्‍क में एक अलग तरह का तनाव बनता है. जिसके कारण सिर दर्द होने लगता है. 

अनगिनत हैं शतावरी के फायदे, जानें सेहत पर कैसे करती है मदद

घरेलु नुस्खों से पाएं लगातार होने वाली हिचकी से निजात

आसानी से समझ नहीं आते पेट के कैंसर के लक्षण, जानें क्या होते हैं संकेत