सिद्धू परिवार ने दोनों पद ठुकराए

नई दिल्लीः पंजाब के मंत्री नवजोत सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर ने पंजाब वेयरहाउसिंग कॉर्पोरेशन का चेयरपर्सन का पद लेने से इंकार कर दिया है .यही नहीं उनके बेटे करण ने भी हाईकोर्ट में एडिशनल एडवोकेट जनरल का पद नहीं लेने की बात कही है.

उल्लेखनीय है कि पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पर परिवारवाद के आरोप लगे थे.इसके बाद नवजोत सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर ने पंजाब वेयरहाउसिंग कॉर्पोरेशन का चेयरपर्सन का ओहदा नहीं लेगी. उनके बेटे करण ने भी हाईकोर्ट में एएजी का पद न लेने का फैसला किया है . सिद्धू ने कहा कि उनका परिवार दोनो पद अपनी मर्जी से छोड़ रहा है. सिद्धू ने कहा सियासत में साख जरुरी है . उन्होंने इन पदों के लिए सीएम अमरिंदर सिंह का आभार भी माना. बता दें कि करण को एएजी नियुक्त करने पर विवाद हुआ था . 

पंजाब प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्य के पूर्व मंत्री अनिल जोशी ने पंजाब के मंत्री नवजोतसिंह सिद्धू पर आरोप लगाया था कि वे मंत्री बनने के बाद अपने परिवार में ही नौकरियां बांट रहे हैं. जोशी ने कहा सिद्धू ने मंत्री बनने के बाद अपनी पत्नी नवजोत कौर को पंजाब भंडारण निगम का चेयरमैन बना दिया , वहीं अब अपने बेटे करणवीर सिद्धू को सहायक महाधिवक्ता (एएजी) पद पर नियुक्ति करा दी है .

यह भी देखें

शाहकोट उपचुनाव में लगेंगी वीवीपैट मशीन

सुप्रीम कोर्ट से सिद्धू को बड़ी राहत...

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -