बुलेटप्रूफ जैकेट को निर्यात कर रहा भारत, लोक​सभा में सामने आया चौकाने वाला आकड़ा

रक्षा राज्यमंत्री श्रीपद नाईक ने लोकसभा में विशेष जानकारी उपलब्ध कराई है. जिसके तहत भारत 18 देशों को बुलेटप्रूफ जैकेट निर्यात कर रहा है. हालांकि, उन्होंने रणनीतिक वजहों का हवाला देते हुए उन देशों का नाम बताने से इन्कार कर दिया.

राजभवन तय करेगा मध्य प्रदेश का राजनीतिक भविष्य

इसके अलावा अपने बयान में नाईक ने कहा कि 15 कंपनियों को बुलेटप्रूफ जैकेट बनाने के लिए लाइसेंस दिया गया है. घरेलू और निर्यात जरूरतों की पूर्ति के लिए देश में हर साल 10 लाख बुलेटप्रूफ जैकेट उत्पादन करने की क्षमता है. एक अन्य सवाल के जवाब में रक्षा राज्यमंत्री ने कहा कि दूसरे मित्र राष्ट्रों को हल्के लड़ाकू विमान निर्यात के लिए हिंदुस्तान एयरोनाटिक्स लिमिटेड द्वारा विदेशी प्रदर्शनियों में प्रदर्शन किया गया है.

उन्नाव केस : कुलदीप सिंह सेंगर के लिए बड़ा दिन, दिल्ली कोर्ट सुनाने वाली है सजा

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि रक्षा राज्यमंत्री नाईक ने लोकसभा में एक लिखित प्रश्न के उत्तर बताया कि सेना ने 2016-17 और 2018-19 के बीच करीब 1.65 लाख जवानों की भर्ती की गई. सेना ने 2016-17 में 54,815, 2017-18 में 52,839 और 2018-19 में 57,266 कर्मियों की भर्ती की. इस दौरान सबसे ज्यादा 18,906 कर्मी उत्तर प्रदेश से, पंजाब एवं चंडीगढ़ से 15,455, महाराष्ट्र से 11,866 और हरियाणा से 10,382 कर्मियों की भर्ती हुई. हिमाचल प्रदेश से 8,752 और उत्तराखंड से 8,966 कर्मियों की भर्ती हुई और नेपाल से कुल 5,275 कर्मियों की भर्ती हुई.

Ind Vs SA : धर्मशाला में पहला वनडे मुकाबला आज, डिकॉक बोले- हम कड़ी टक्कर देने के लिए तैयार

दिल्ली हिंसा पर पुलिस की बड़ी कार्रवाई, PFI के चेयरमैन और सचिव गिरफ्तार

हरियाणा से कन्याकुमारी तक फैला कोरोना वायरस, अब तक देशभर में 69 मामले आए सामने

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -