CWG: अब इस शहर में होगी शूटिंग आर्चरी की कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप

CWG: अब इस शहर में होगी शूटिंग आर्चरी की कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप

कॉमनवेल्थ गेम्स फेडरेेशन (CGF) ने ऐतिहासिक फैसला लेते हुए चंडीगढ़ में होने वाली शूटिंग और आर्चरी की कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप के पदकों को 2022 के बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स की पदक तालिका में शामिल करने को मंजूरी दे दी है. इन दोनों खेलों की कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप जनवरी 2022 में चंडीगढ़ में होगी, जबकि कॉमनवेल्थ गेम्स इसी साल बर्मिंघ में होंगे. हालांकि सीजीएफ ने यह भी कहा है कि शूटिंग, आर्चरी के पदकों को मुख्य कॉमनवेल्थ गेम्स के समापन समारोह के एक सप्ताह बाद तालिका में जोड़कर आधिकारिक रैंकिंग जारी की जाएगी.

रिपोर्ट्स के अनुसार शूटिंग को 2022 के बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स से बाहर करने के खिलाफ भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) और एनआरएआई की ओर से छेड़ी गई बगावत ने आखिर रंग दिखा दिया है. आईओए के अध्यक्ष नरेंदर बत्रा ने तो खेलों का बायकाट करने की बात कह दी थी. इसके बाद ही बीते वर्ष नवंबर माह में सीजीएफ की अध्यक्ष डेम लुइस मार्टिन और सीईओ डेविड ग्रेवेमबर्ग को बातचीत के लिए दिल्ली आना पड़ा. दोनों पक्षों के बीच हुई बातचीत के बाद के बाद प्रस्ताव रखा गया कि शूटिंग और आर्चरी की कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में भारत आयोजित करेगा. मार्टिन ने इस प्रस्ताव को सीजीएफ कार्यकारिणी में रखने की बात कही, जिसे सोमवार को मंजूरी दे दी गई.

जानकारी के लिए हम  बता दें कि चैंपियनशिप का खर्च मंत्रालय व एनआरएआई उठाएंगे: एनआरआई के अध्यक्ष रणइंदर सिंह साफ कर चुके हैं कि शूटिंग चैंपियनशिप का सारा खर्च (करीब 10 करोड़ रुपये) एनआरएआई उठाएगी, जबकि आर्चरी का खर्च (करीब चार करोड़) खेल मंत्रालय उठाएगा. एनआरएआई सभी शूटरों की यात्रा से लेकर रहने, खाने  का खर्च उठाएगा.

रोहित शर्मा के लग्जरी फ्लैट की क़ीमत जानकर उड़ जाएंगे आपके होश

आमिर खान बने तीसरी बार पिता, सोशल मीडिया पर शेयर की फोटो

WWE के सुपरस्टार जॉन सीना ने अपने किरदार को बदलने की बताई ये वजह