शोएब ने कहा विदेशी टीम को आमन्त्रित करने के जोखिम से बचें

कराची - पाकिस्तान की वर्तमान दशा को देखते हुए पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने एक न्यूज चैनल से चर्चा में कहा कि किसी भी विदेशी टीम को पाकिस्तान में आमंत्रित करने के जोखिम से बचना चाहिए.

देश की आतंकी घटनाओ जिसमें दो दिन पहले क्वेटा में पुलिस ट्रेनिंग केंद्र में आतंकी हमले में 62 पुलिस कैडेट और दो सैनिकों की मौत होने और करीब 170 लोगों के चोटिल होने का जिक्र करते हुए अख्तर ने कहा कि देश में सुरक्षा की स्थिति अच्छी नहीं है.इसलिए सुरक्षा स्थिति को लेकर जब तक सब कुछ सामान्य नहीं हो जाता तब तक हमें किसी विदेशी टीम को पाकिस्तान आमंत्रित करने का जोखिम नहीं उठाना चाहिए.

शोएब अख्तर ने सुरक्षा के लिए धैर्य रखने की सलाह देते हुए यकीन दिलाया कि पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी होगी. लेकिन इसमें कुछ समय लगेगा. बता दें कि मार्च 2009 में लाहौर में श्रीलंका क्रिकेट टीम पर आतंकी हमले के बाद से किसी शीर्ष विदेशी टीम ने पाकिस्तान का दौरा नहीं किया है.

अख्तर की इस हरकत का दोनों ही मुल्क में उड़ा जमकर मजाक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -