Video: महाराष्ट्र बंद के नाम पर शिवसैनिकों की गुंडागर्दी, जबरन बंद करवा रहे लोगों की दुकानें

मुंबई: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में कृषकों और अन्य लोगों की मौत के विरोध में 11 अक्टूबर, सोमवार को महाराष्ट्र बंद बुलाया गया है। महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ महाविकास अघाड़ी ने इस बंद का ऐलान किया है। राज्य की सत्ताधारी शिवसेना, NCP और कांग्रेस के साथ ही अन्य छोटे दलों ने भी इस बंद का समर्थन किया है। बताया जा रहा है कि ऐसा भारत के इतिहास में पहली बार हुआ है, जब सत्ताधारी दल ने ही अपने राज्य में बंद का आह्वान किया हो, अक्सर सरकार के विरोध में बंद किया जाता रहा है। 

 

हालांकि अधिकांश स्थानों पर बंद का कोई असर नहीं दिख रहा है, मतलब महाराष्ट्र की जनता की बंद में कोई दिलचस्पी नहीं है। लेकिन मुंबई में कई जगहों पर शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने लोगों को डरा-धमकाकर जबरन दुकानें बंद करवाई हैं। वहीं, भाजपा ने इसका विरोध किया है। इसके वीडियो भी सामने आए हैं, जिसमे शिवसेना का झंडा लिए लोग, दुकानदारों को धमका रहे हैं और जबरन उनकी दुकानें बंद करवा रहे हैं। मुबंई में सड़कों पर दौड़ रहीं BEST की बसों में भी तोड़फोड़ किए जाने की खबर मिल रही है।

 

उद्धव ठाकरे सरकार में मंत्री और NCP के प्रवक्ता नवाब मलिक ने बताया कि बंद रात 12 बजे से आरंभ हो चुका है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा की अगुवाई वाली केंद्र सरकार ने पहले कृषि कानूनों के जरिए कृषि उपज की लूट की इजाजत दी और अब उसके मंत्री के परिजन किसानों का क़त्ल कर रहे हैं। हमें किसानों के साथ एकजुटता दर्शानी होगी। बता दें कि लखीमपुर मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी का पुत्र आशीष मिश्रा मुख्य आरोपी है, जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है। लेकिन, महाविकास अघाड़ी, अजय मिश्रा के इस्तीफे की मांग पर अड़ी हुई है।

ममता की सांसद नुसरत जहाँ ने भाजपा नेता यश दासगुप्ता से कर ली शादी ? देखें वायरल तस्वीरें

सबरीमाला पर ताम्रपत्र का शिलालेख फर्जी : विजयन

जे-कश्मीर नेशनल कांफ्रेंस के पूर्व नेता देवेंदर राणा, सुरजीत सलथिया भाजपा में हुए शामिल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -