मुलायम में देशभक्ति हो तो आजम को लात मारकर भगा दें : शिवसेना

मुलायम में देशभक्ति हो तो आजम को लात मारकर भगा दें : शिवसेना

मुंबई : दादरी में एक शख्स की बीफ खाने की अफवाह पर हत्या करने के मामले की शिकायत UN से करने की बात कहने वाले उत्तर प्रदेश के गद्दावर नेता व मंत्री आजम खान पर शिवसेना ने अपने मुख पत्र 'सामना' में जमकर हमला बोला है. सामना में 'आजम खान को हकालो!' टाइटल से संपादकीय छापा है इसमें लिखा है कि , "यदि मुलायम सिंह यादव की धमनियों में रंच मात्र भी राष्ट्रभक्ति शेष होगी, तो वे आजम खान नामक मंत्री के पार्श्वभाग (पीछे के हिस्से) पर लात मारकर उसे घर बैठा देंगे."

इसमें आगे लिखा है, "आजम खान नामक उत्तर प्रदेश के विवादास्पद मंत्री ने अब तक कई अपराध किए हैं. धर्मांध राजनीति में उसके सारे अपराध पचा लिए गए. किंतु अब इस नापाक आदमी ने घरेलू विवाद को शीर्ष पर ले जाकर हिन्दुस्तान की धज्जियां उड़ाने का काम किया है. 

सामना में प्रकाशित लेख में कहा गया है कि "अगर आजम खान को दादरी मामले पर इतना ही दुख है तो उन्हे मंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए. आजम की हरकतों के लिए मुख्यमंत्री अखिलेश सिंह यादव को आजम खान से इस्तीफा मांगना चाहिए. आगे कहा गया कि आजम खान को देश के किसी भी संवैधानिक पद पर रहने का अधिकार नहीं है अतः निर्वाचन आयोग को आजम खान को चुनाव लड़ने के लिए अपात्र घोषित का देना चाहिए.

शिवसेना ने लिखा कि "पाकिस्तान में हिंदुओं को भयंकर अत्याचार का सामना करना पड़ रहा है. वहाँ हिंदुओं की दुर्दशा पर आजम संयुक्त राष्ट्र को पत्र क्यों नहीं लिखते. पाकिस्तान उठते-बैठते संयुक्त राष्ट्र की ओर भागता है और आजम खान भी संयुक्त राष्ट्र में पत्र भेजते हैं, यह एक प्रकार का देशद्रोह है."

आगे लिखा गया है कि "दादरी मामले में सभी धर्मनिरपेक्ष दल और उसके नेता आसूं बहाते हुए दादरी पहुचे. लेकिन मक्का में भगदड़ में मरनेवालों में सैकड़ों मुसलमान हिंदुस्तानी हैं. लेकिन उस पर नेताओं ने बयान नहीं दिया."

भाजपा का बचाव कराते हुए सामना में लिखा कि "इस मामले में भाजपा को हिंदुत्ववादी कहना बिल्कुल गलत है. क्योंकि सत्तारूढ़ भाजपा पूरी तरह धर्मनिरपेक्ष बनकर सरकार चला रही है और खुद PM मोदी ने वचन दिया है कि वह मुसलमानों की मदद के लिए आधी रात को भी तैयार हैं. ऐसे में मुसलमानों पर अत्याचार को लेकर संयुक्त राष्ट्र को पत्र लिखना देश और PM मोदी का अपमान है."