दलितों को जिंदा जलाए जाने पर शिवसेना ने किया विरोध

फरीदाबाद ​: हरियाणा राज्य के बल्लभगढ़ में दलित परिवार के सदस्यों को जिंदा जला दिए जाने की वारदात को लेकर शिवसेना ने भाजपा का जमकर विरोध किया है।  पार्टी के प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय नेताओं के बयान का मुझे इंतजार है। हरियाणा में जो भी हो रहा है वह किसी तरह के टाॅलरेंस और सामाजिक न्याय का प्रकार नहीं है। उल्लेखनीय है कि यहां के बल्लभगढ़ में दलित परिवार को मंगलवार तड़के नींद में ही जिंदा जला दिया गया। 

इस वारदात में 2 बच्चों की मौत हो गई। दूसरी ओर ओर बच्चों के अभिभावक झुलस गए। झुलसे अभिभावकों की हालत गंभीर बताई जा रही है। शिवसेना ने कहा है कि इस मामले में भाजपा की ओर से बयान का इंतज़ार किया जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार इस घटना के घट जाने के बाद पुलिस ने 11 आरोपियों के विरूद्ध प्रकरण दर्ज कर लिया था। करीब 3 अभियुक्तों को पकड़ लिया गया।

परिवार को पुलिस सुरक्षा दी गई थी। वारदात के दौरान घर के समीप जागरण किया जा रहा था। बताया जा रहा है कि दलितों पर इस तरह का हमला राजपूतों द्वारा किया गया था। इस मामले में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने पीडि़त परिवार को 10 लाख रूपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है।

घायलों के उपचार का खर्च सरकार द्वारा वहन किए जाने की बात कही गई है। अब इस मामले में विरोध की राजनीति तेज हो गई है। कांग्रेस सांसद और पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी हरियाणा में पीडि़तों का जायजा लेने पहुंचने वाले हैं। दूसरी ओर मुख्यमंत्री खट्टर ने भी पीडि़तों की हालत का जायजा लिया। शिवसेना द्वारा इस घटना पर तीखी प्रतिक्रिया दी गई है और कहा गया है कि यह घटना बेहद गंभीर है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -