पुलवामा हमले पर गरजी शिवसेना, कहा घर में घुस के मारो

मुंबई: जम्मू कश्मीर में पिछल पांच दिनों के अंदर 45 जवानों से अधिक की शहादत पर महाराष्ट्र और केंद्र सरकार में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सहयोगी शिवसेना ने मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया है. शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला है. सामना में लिखा है कि 'पुलवामा में खून की नदिया बहीं. इसके बदले में अगर सर्जिल स्ट्राइक करने वाले हो तो इसे बदला नहीं कहा जाएगा.' 

आज शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से मुलाकात कर सकते है अमित शाह

सामना में देश की पूर्व पीएम इंदिरा गांधी का महिमांडन करते हुए कहा गया है कि पाकिस्तानियों को उन्होंने सबक सिखाय़ा था. लाहौर तक सेना घुसाकर पाकिस्तानी टुकड़ियों को नेस्तनाबूद कर दिया था. लाखो सैनिकों को घुटने टेकने पर विवश कर दिया. पुलवामा में हुए हमले के बाद पीएम मोदी ने सैनिकों को पाकिस्तान पर कार्रवाई करने की पूरी छूट दी. पीएम मोदी ने सेना अध्यक्षों को यह छूट दी है कि समय, दिन और स्थान सेना तय करें और सैनिकों की शहादत का बदला लें. अब सर्जिकल स्ट्राइक या सिमित युद्ध के दो विकल्प सेना के पास हैं. ये वो खुशी-खुशी करें.   

नागरिकता विधेयक का विरोध करना आसाम की संस्कृति के खिलाफ - हेमंत बिस्वा सर्मा

उल्लेखनीय है कि इससे पहले पुलवामा आतंकी हमले के बाद की स्थिति पर चर्चा के लिए आयोजित की गई सर्वदलीय बैठक में शिवसेना ने केंद्र की मोदी सरकार से कहा गया है कि वो केवल सर्जिकल स्ट्राइक करने से परिणाम नहीं निकलने वाला है और अब समय आ गया है कि लाहौर और इस्लामाबाद समेत पाकिस्तान के अंदरूनी हिस्सों में हमले किए जाएं.

खबरें और भी:-

लोकसभा चुनाव: भाजपा नेता का दावा, अगर पीएम मोदी लौटे तो अपने आप गिर जाएगी मप्र सरकार

तेलंगाना : मंत्रिमंडल विस्तार की तैयारी में के चंद्रशेखर राव, जल्द होगा एलान

असम में बोले राजनाथ सिंह देश का ‘चौकीदार प्योर है'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -