शिव सेना ने भाजपा को दी आजम खान की जीभ खींचने की चुनौती

मुम्बई : शिव सेना ने इस बार अपने मुख पत्र 'सामना' के सम्पादकीय में आजम खान पर निशाना साधा है. संपादकीय का शीर्षक ही ' जीभ खींचो' दिया गया है. आजम खान के ”में भी प्रधान मंत्री बन सकता हूँ.” इस दावे पर टिप्पणी करते हुए यह सम्पादकीय छापा गया है.

बता दें कि 'सामना' के इस सम्पादकीय में देश के प्रधानमंत्री पर खिल्ली उड़ाने पर ऐतराज जताते हुए कहा है कि प्रधान मंत्री बनने के लिए देशभक्ति का खून होना जरुरी है. आजम खान के विवादों को देखते हुए इस बयान को सीधे सीधे देश द्रोह का दर्जा दिया गया है. पीएम के खिलाफ की गई इस टिप्पणी पर शिव सेना ने भाजपा को चुनौती देते हुए लिखा है कि क्या आजम खान की जीभ खींचने की हिम्मत बीजेपी पदाधिकारियों में है ?

इस मुद्दे पर शिवसेना ने कहा कि आजम खान के सिर पर मखमली टोपी जरूर है लेकिन उसके नीचे दिमाग नहीं है. ऐसे लोग मुसलमानों को भड़का कर अपनी राजनीतिक रोटी सेंकना जानते हैं. हालाँकि सामना ने देश के कई महत्वपूर्ण पदों पर रहे मुसलमानो के शानदार काम की तारीफ़ भी की है.

उल्लेखनीय है किआजम खान ने पिछले दिनों पत्रकारों से बातचीत में कहा था कि ‘मैं चाय बना सकता हूं, ड्रम बजा सकता हूं तो प्रधानमंत्री क्यों नहीं बन सकता.' उन्होंने मीडिया से पूछा था कि मुसलमान प्रधानमंत्री क्यों नहीं होना चाहिए. मैं तो प्रधानमंत्री होना चाहता हूं. बता दें आजम खान अपने बयानों को लेकर अक्सर ही विवादों में रहते हैं.

समान नागरिक संहिता पर शिवसेना केंद्र...

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -