श्री राम मंदिर पर नारे नहीं ईंटे लगाऐं मोदी

मुम्बई उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव पास ही हैं। तो दूसरी ओर मुंबई और ठाणे में स्थानीय चुनावों को लेकर तैयारियां की जा रही हैं। ऐसे में शिवसेना ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर प्रहार किया है। शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में प्रकाशित करवाया है कि श्री राम मंदिर का निर्माण अब नहीं होगा तो कब होगा। राम मंदिर के केवल नारे न लगाऐं ईंटें लगाना प्रारंभ करें।

दरअसल सामाना में यह बात प्रकाशित करवाई गई है कि पाकिस्तान में हुई सर्जिकल स्ट्राईक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आत्मविश्वास अधिक हो गया है। लखनऊ में दशहरा सम्मेलन कर प्रधानमंत्री ने जय श्रीराम का नारा दिया। भाजपा यूपी चुनाव को लेकर करो या मरो की स्थिति में है। श्री राम मंदिर भी बनेगा और इस पर स्वर्ण कलश चढ़ाया जाएगा। यूपी में भाजपा को राम मंदिर के लिए वोट मिलेंगे। भाजपा यदि 300 सांसदों के दम पर श्री राम मंदिर को लेकर कोई प्रस्ताव केंद्र में नहीं ला सकती है तो फिर कब लाएगी।

क्या राम मंदिर पर केवल चर्चा ही होगी। अब तो इसके लिए ईंटे लगाने का कार्य तक प्रारंभ हो जाना चाहिए। मगर अभी भी कोई तैयारी नहीं हुई। सामना में किए गए प्रकाशन में कहा गया कि आखिर क्या बाबरी मस्जिद का गुंबद जमींदोज़ करने का जो कार्य शिवसेना ने किया था वेैसा ही कार्य कलश चढाने को लेकर फिर शिवसेना को करना होगा।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -