ऐसा करने से खुद को रोक नहीं पाते शेखर कपूर

ऐसा करने से खुद को रोक नहीं पाते शेखर कपूर

'मिस्टर इंडिया', 'बैंडिट क्वीन' जैसी सुपरहिट फिल्म बनाने वाले प्रसिद्ध फिल्मकार शेखर कपूर का कहना है कि, वह एक फिल्म निर्माता इसलिए बने क्योंकि वह हर रोज नई-नई कहानियों की कल्पना करने से खुद को रोक नहीं सकते.

हाल ही में उन्होंने ट्वीट कर कहा, "मैं एक फिल्म निर्माता बना क्योंकि मैं हर दिन खुद को नई कहानियों की कल्पना करने और उन्हें कहने से रोक नहीं सकता और जिन्हें मैं फिल्मों के माध्यम से नहीं सुना सकता, उन्हें मैंने इंस्टाग्राम पर बयां करना शुरू कर दिया है" बीते दिनों पहले हुए एक इंटरव्यू में शेखर ने कहा था कि, प्रौद्योगिकी ने फिल्म निर्माण को आसान कला बना दिया है. उन्होंने कहा कि यदि आप फोन के जरिए एक वीडियो शूट कर सकते हैं तो आप फिल्मकार हैं.

कपूर ने कहा कि "फिल्म निर्माण की प्रक्रिया एकदम बदल गई है, आप अपने वीडियो अपलोड कर सकते हैं और हो सकता है कि उसे 7.5 करोड़ बार देखा जाए. इतने लोग तो थियेटर में भी फिल्में देखने नहीं पहुंचते. देश में केवल 12,000 थियेटर हैं, इसलिए मुझे लगता है कि फिल्म निर्माण की प्रक्रिया में बदलाव आ रहा है और इसकी विशेष पहचान खोती जा रही है." बता दे कि, फिल्म बैन्डिट क्वीन के लिए शेखर कपूर को फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ निर्देशक पुरस्कार से सम्मानित किया है. फिलहाल शेखर टीवी सीरीज 'विल' को बनाने में व्यस्त हैं.

ये भी पढ़े 

अदनान के दिल के करीब 'अफगान'

पाकिस्तानी हैंडसम बॉय 'फवाद खान' का आज जन्मदिन

'फुकरे रिटर्न्स' के प्रमोशन का ये अनोखा तरीका

 

 

बॉलीवुड और हॉलीवुड से जुडी चटपटी और मज़ेदार खबरे, फ़िल्मी स्टार की जिन्दगी से जुडी बातें, आपकी पसंदीदा सेलेब्रिटी की फ़ोटो, विडियो और खबरे पढ़े न्यूज़ ट्रैक पर