शीना हत्याकांड: तीनों आरोपियों को 5 सितंबर तक पुलिस रिमांड पर भेजा

Aug 31 2015 05:00 PM
शीना हत्याकांड: तीनों आरोपियों को 5 सितंबर तक पुलिस रिमांड पर भेजा

मुंबई : बहुचर्चित शीना बोरा हत्याकांड में तीनों आरोपियों को आज ब्रांद्रा की कोर्ट में पेश किया गया। इस दौरान न्यायालय ने तीनों ही आरोपियों इंद्राणी मुखर्जी, संजीव खन्ना और वाहन चालक श्यामवर राय को 5 सितंबर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया। बांद्रा कोर्ट में मामले की सुनवाई की गई। इस दौरान सुनवाई बेहद लंबी चली। लगभग 1 घंटे तक मामले में पैरवी की जाती रही। इस मामले में पुलिस ने कहा कि हत्या में उपयोग किए गए सामान का मिलना अभी शेष है वहीं इंद्राणी और अन्य दोनों आरोपियों पर मिखाईल को जहर दिए जाने का मामला दर्ज किया गया। 

मिली जानकारी के अनुसार संजीव खन्ना और इंद्राणी की बेटी विधि कोर्ट में ही थीं। हालांकि विधि अपनी मां से मिल नहीं सकी। इंद्राणी को कोर्ट में चेहरे से नकाब नहीं हटाने दिया गया। केवल दो क्षण के लिए इंद्राणी ने नकाब हटाया। इंद्राणी सुनवाई के दौरान खामोश बैठी रही। मामले में एक नया मोड़ उस समय आया जब इंद्राणी द्वारा एक व्यक्ति को हत्या के लिए ढाई लाख रूपए दिए जाने की बात सामने आई। पुलिस द्वारा इस मामले में जांच की जा रही है कि कहीं यह कोई सुपारी किलर तो नहीं है। मिखाईल ने पुलिस को बयान दिया कि उसे भी दो बार जान से मारने का प्रयास किया गया है। 

24 अप्रैल 2012 को शीना की हत्या की दी गई थी। इसके बाद शीना के शव को सूटकेस में डाल दिया गया और शव को रायगढ़ के जंगल में जलाने का प्रयास किया गया। उल्लेखनीय है कि विधि को पीटर मुखर्जी ने गोद लिया है। सुनवाई के समय जब वह कोर्ट में मौजूद थी तो वह इंद्राणी को देखकर रो पड़ी। दूसरी ओर इंद्राणी ने पुलिस पर पिटाई का आरोप लगाते हुए मुंबई पुलिस के प्रमुख राकेश मारिया से शिकायत की है। 

इंद्राणी को कानूनी सलाह लेने नहीं दिया गया। अभी तक पुलिस ने जो पूछताछ की है उससे यही सामने आ रहा है कि इंद्राणी शीना का मर्डर करने से मना कर रही है। तो आरोप संजीव खन्ना पर लगा रही है दूसरी ओर संजीव खन्ना ने मर्डर में घसीटे जाने की बात कही है। पुलिस द्वारा अब इंद्राणि के पहले पति सिद्धार्थ दास का पता लगाया जा रहा है। इंद्राणी मुखर्जी द्वारा अपने बयान बदले जा रहे हैं और अपराध के लिए पूर्व पति संजीव खन्ना को जिम्मेदार ठहरा रही है।