किस के DNA में है दम, जो मुझे कह सके - खामोश!

पटना : भारतीय जनता पार्टी में बिहार में मिली चुनावी हार के बाद एक दूसरे पर आरोप लगाने का सिलसिला थम नहीं रहा है। पार्टी नेतृत्व द्वारा बिहार के बागियों से हार को लेकर चर्चा की जा रही है तो वे भी अपना पक्ष रखने लगे हैं। भाजपा सांसद और लोकप्रिय अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने भी पार्टी के वरिष्ठ नेता से हुई चर्चा के बाद फिर से अपनी ओर से बयान दिया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि निहित स्वार्थ वाले लोग बिहार चुनावों में मिली हार से सबक सीखने से मना कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि किसी का डीएनए ऐसा नहीं है जो मुझे निशाने पर रख सके। दरअसल वे अप्रत्यक्षतौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साध रहे थे। हार के लिए जिम्मेदारी ली जाना जरूरी है।

वरिष्ठ नेताओं की मांग का पक्ष लेते हुए उन्होंने कहा कि साझा जिम्मेदारी का छद्मावतरण स्वीकार नहीं किया जा सकता है। आखिर पार्टी में सुधार की जरूरत है जिससे लोग अपनी जिम्मेदारी को समझें।

उन्होंने कहा कि कुछ नासमझ कार्रवाई की बात कर गीदड़ भभकी दे रहे हैं। सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्विट कर लिखा है कि कुछ निहित स्वार्थ लोगों द्वारा अभी भी गलत सूचनाऐं प्रसारित की जा रही हैं जिससे पार्टी में गलतफहमियां पैदा हो रही हैं। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -