निवेशकों के लिए पिछला साल रहा बेहद ख़राब अब नए साल से उम्मीद

Jan 01 2019 01:31 PM
निवेशकों के लिए पिछला साल रहा बेहद ख़राब अब नए साल से उम्मीद

मुंबई : पिछले साल शेयर बाजार निवेशकों के लिए बुरे जैसा ही साबित हुआ। इस साल निवेशकों ने 7.24 लाख करोड़ रुपये गंवाए। बीएसई में लिस्टेड कंपनियों ने इस साल 7,25,401.31 करोड़ रुपये गंवा दिए। विशेषज्ञों के अनुसार नए साल में भी हालात बहुत ज्यादा बदलते नहीं दिख रहे हैं. बीएसई के सेंसेक्स ने 2018 में 2011.5 अंकों यानी 5.90 फीसदी की बढ़त हासिल की। इस साल अगस्त में यह 38,989.65 तक पहुंचा था और इसके बाद इसमें कुल 2921 अंकों यानी 7.5 फीसदी की गिरावट आई और यह 36,068 पर आकर बंद हुआ। 

एचडीएफसी ग्रुप बना देश का सबसे बड़ा कारोबारी समूह

 

आखिरी दिन रही हलचल

प्राप्त जानकारी के अनुसार विशेषज्ञों कि माने तो साल का दूसरा भाग इक्विटी मार्केट घरेलू और वैश्विक हालात के मद्देनजर बेहद चुनौतीपूर्ण रहा। वेल्थ मैनेजमेंट के रिसर्च कि माने तो साल के आखिरी दिन शेयर बाजार में हलचल रही। ग्लोबल मार्केट से भी मिश्रित संकेत मिले। किसी तरह की नई ऊर्जा नहीं मिलने से आखिरी सत्र खास नहीं रहा। 

बजाज ने दिया नए साल पर सबसे बड़ा तोहफा, लॉन्च की Bajaj V15 Power Up

बनेगा बेहतर माहौल बनेगा

एक और रिसर्च हेड ने बताया धीमी घरेलू अर्थव्यवस्था, प्रीमियम वैल्यूशन, अगले दो तिमाही में आमदनी में कम वृद्धि के चलते आने वाले समय में भी हालात ऐसे ही रहेंगे। उनका कहना है कि हालांकि 2019 के आगे बढ़ने के साथ उपर दिए गए तथ्यों के मद्देनजर नए साल में निवेश के लिए बेहतर माहौल बनेगा। 

लॉन्च हुई 110cc Bajaj प्लेटिना, इतनी है कीमत और यह है नए फ़ीचर्स

केवल 32 हजार रु में खरीदें बजाज की सबसे तगड़ी बाइक, माइलेज 90kmpl

क्रिसमस-डे पर 200 बच्चों की बस पर पड़ी नजर, विहिप और बजरंगदल ने रोका