शनि जयंती के दिन इस चीज का दान देने से कम होगा साढ़ेसाती का असर

 

हिंदू शास्त्रों के अनुसार शनिदेव (lord shanidev) को न्याय का देवता कहा जाता है। जी दरअसल ऐसी मान्यता है कि शनिदेव हर इंसान को उसके कर्मों का फल जरूर देते हैं। इसके अलावा यह भी कहा जाता है कि शनि देव अच्छे कर्मों के लिए अच्छे फल देते हैं। इसी के साथ जो व्यक्ति बुरे काम करता है तो, उसे अपने कर्मों का फल भुगतना पड़ता है। केवल यही नहीं बल्कि इसके अलावा (happy shani jayanti 2022) ये भी कहा जाता है कि जो व्यक्ति अच्छे काम करता है, उस पर शनि देव की विशेष कृपा हमेशा बरसती रहती है।

आप सभी को बता दें कि धार्मिक मान्यता के अनुसार, शनि जयंती (shani jayanti 2022) के दिन विधि-विधान से पूजा करने से शनि देव की कृपा पाई जा सकती है। जी हाँ और आपको बता दें कि ज्येष्ठ मास की अमावस्या तिथि को शनि जयंती मनाई जाती है और इस साल शनि जयंती 30 मई को मनाई जाएगी। ऐसे में इस दिन दान (shani jayanti 2022 daan items) करने से लोगों को कष्टों से मुक्ति मिल जाती है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं क्या दान दिया जा सकता है?

शनि जयंती पर सात प्रकार के अनाज यानी बाजरा, चना, चावल, गेहूं, ज्वार, मक्का काली उड़द का दान करने से शनि दोष का असर कम होता है। केवल यही नहीं बल्कि इसके अलावा आप चाहें तो सरसो के तेल का दान भी कर सकते है। इन चीजों का दान काफी शुभ माना जाता है।

काली मिर्च का करें दान- काली मिर्च का दान करने से लोगों के जीवन से शनि के अशुभ प्रभाव कम हो जाता है। इसी के साथ काली मिर्च के साथ धन का दान कर सकते हैं। अगर साढ़ेसाती शनि की ढैय्या चल रही हो तो शनिवार को काली मिर्च के कुछ दाने काले कपड़े में लपेटकर उसमें कुछ सिक्के रखकर दान कर दें। ऐसा करने से आपको काफी फायदा मिलेगा।

शनि जयंती पर इस तरह से पहने काला धागा, राहु-केतु के दुष्प्रभाव से मिलेगी राहत

30 मई को है वट सावित्री व्रत, रोगमुक्ति के लिए करें यह उपाय

30 मई को है शनि जयंती, बन रहा है खास संयोग

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -