छोटी बहन को देह व्यापार में धकेलना चाहती थी बड़ी बहन, विरोध करने पर कर डाली हत्या

रांची: झारखंड मे मेदिनीनगर में 7 माह पहले गुमशुदा हुई 17 वर्षीय लड़की के मामले में नया खुलासा हुआ है। पुलिस के अनुसार, लड़की की बड़ी बहन उसे देह व्यापार में धकेलना चाहती थी। जबरन उसे लोगों के पास भेजती थी। विरोध करने पर लड़की का क़त्ल कर दिया गया तथा शव को दफना दिया गया। क़त्ल के कई दिनों पश्चात् पुलिस ने शव को बरामद किया, लड़की की पहचान के पश्चात् शव का पोस्टमार्टम कराया गया, जिसमें क़त्ल की पुष्टि हुई। 

वही पुलिस का कहना है कि लड़की पांच बहनों में चौथे नंबर की थी। उसके माता-पिता दोनों की मौत हो चुकी थी। इसलिए लड़की सुदना में अपनी सबसे बड़ी बहन राखी के पास रहती थी, जो देह व्यापार में लिप्त थी। लड़की की एक और दूसरे नंबर की बहन रूपा का पति धनंजय बड़ी बहन राखी की देह व्यापार में सहायता करता था। दोनों मिलकर लड़की को देह व्यापार में धकेलना चाहते थे तथा उसे जबरन ग्राहकों के पास भेजते थे। 

पुलिस ने कहा कि लड़की की सबसे बड़ी बहन राखी के दो प्रेमी प्रताप कुमार व नीतीश थे। राखी इन दोनों से अपनी छोटी बहन का रेप करवाती थी। दोनों अक्सर राखी के घर आया करते थे तथा जबरन लड़की के साथ बलातकार करते थे। मृतका एक अन्य शख्स से प्यार करती थी तथा उसी से विवाह भी करना चाहती थी, जिसका राखी विरोध कर रही थी। 17 वर्षीय लड़की के क़त्ल से दो दिन पहले राखी का एक प्रेमी प्रताप उसके घर पहुंचा। उस वक़्त राखी घर में नहीं थी। प्रताप ने उसकी छोटी बहन के साथ दुष्कर्म किया। विरोध करने पर उसने लड़की को जान से मार दिया। राखी जब घर लौटी तो उसने छोटी बहन को मृत पाया। तत्पश्चात, राखी, रूपा, धनंजय, प्रताप व नीतीश ने मिलकर लड़की के शव को ठिकाने लगाने की योजना बनाई तथा एक सूनसान स्थान पर उसके शव को दफना दिया। 

पानीपत में गाय का सिर काटकर ले गए हत्यारे, जांच में जुटी पुलिस

शख्स को किडनैप कर जबरन चेक लेने का आरोप, 4 पुलिसकर्मी सहित 6 के खिलाफ केस दर्ज

बहु ने ससुर के खिलाफ दर्ज कराया दुष्कर्म का केस, जांच जारी

Most Popular

- Sponsored Advert -