सेक्स से प्रभावित हो सकती है आपकी स्मृति

सेक्स से प्रभावित हो सकती है आपकी स्मृति

सेक्स एक स्वाभविक जरूरत है जिसकी तलब लड़का और लड़की दोनों को ही स्वाभाविक रूप से पड़ती है. जवानी के साथ यह और बढ़ती है. लोगों में सेक्स को लेकर तरह-तरह की भ्रांतियां होती है. कुछ लोग मानते हैं कि सेक्स करना शरीर के लिए काफी हानिकारक होता है. हम बता दें कि सेक्स किसी भी प्रकार से शरीर के लिए हानिकारक नहीं होता है बल्कि युगल सेक्स करने से आपके शरीर के हार्मोंस जागते हैं. जिससे आपकी जवानी और निखरती है और यह वास्तिवता है कि सेक्स से आपकी स्मृति ह्रास होता है.     

जानकर हैरानी होगी कि संभोग के दौरान आपकी याद्दाश कमजोर हो जाती है. यह बात एक शोध में  सामने आई है जिसके अनुसार सेक्स एक क्षणिक भूलने की बीमारी का नेतृत्व कर सकता हैं. सेक्स में इंसान इतना मग्न होता है कि उसका दिमाग किसी और चीज के बारे में इस दौरान सोचने में सक्षम नहीं होता है. परिणामस्वरूप आपकी मेमोरी कमजोर होती है. यह एक क्षणिक क्रिया है. 

सेक्स के बाद भी अगर आपको भूलने की आदत  पड़ गई है तो यह एक गंभीर समस्या हो सकती है. इसे हल्के में ले बल्कि किसी परिचित मनोचिकित्सक को बताएं. सेक्स में जब आप चरम सुख पर होते हैं तो उस दौरान आपका दिमाग आपकी यादों को दूसरी मेमोरी में सेट कर देता है. जिससे आपको उस वक़्त रिलैक्स फील होता है.

क्यों उम्र के साथ धीरे-धीरे मन सेक्स से दूर भागता है?

इसलिए बढ़ती उम्र में बेहतर होती है सेक्स लाइफ

इन बातों को ध्यान में रख पा सकते हैं सेक्स में चरमसुख

?