सीने से लगा रखा है

ेरी चाहत को सीने से लगा रखा है! 
तेरे ख्वाबों को पलकों में सजा रखा है!
किसतरह मैं रोकूंगा तूफान-ए-जुत्सजू?
तेरे ख्यालों को साँसों में बसा रखा है!

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -