26 जनवरी से पहले आतंकी घुसपैठ का अलर्ट, इंटरनेशनल बॉर्डर्स पर बढ़ाई गई सुरक्षा

श्रीनगर: गणतंत्र दिवस के लिए पूरे देश में सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता की जा रही है. केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर भी सख्ती बढ़ा दी गई है. यहां आरएसपुरा की इंटरनेशनल बॉर्डर पर सुरक्षा की खास व्यवस्था की गई है. सुरक्षा स्थिति के संबंध में जानकारी देते हुए एक सुरक्षा जवान ने बताया है कि हम मौसम की स्थिति की परवाह किए बगैर बॉर्डर्स पर गश्त जारी रखते हैं. 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर बॉर्डर पर अलर्ट है.

दरअसल, घाटी में आतंकी लगातार भारतीय सरहद में घुसपैठ करने की फिराक में रहते हैं. गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस के करीब आते ही ये कोशिशें और अधिक बढ़ जाती है, जिसके कारण बॉर्डर्स को अलर्ट पर रख दिया जाता है. वहीं सीमा सुरक्षा बल (BSF), जम्मू के महानिरीक्षक डी. के. बूरा ने सोमवार को कहा कि गणतंत्र दिवस पर देशविरोधी तत्वों द्वारा समस्या पैदा करने के खतरे के मद्देनजर जम्मू-कश्मीर में भारत-पाकिस्तान सीमा पर सुरक्षाबलों को ‘हाई-अलर्ट’ पर रखा गया हैं.

उन्होंने बताया कि BSF ने पहले ही बॉर्डर पर दो हफ़्तों के लिए सतर्कता बढ़ा दी है. उन्होंने कहा कि जम्मू सीमा में इंटरनेशनल बॉर्डर पर सुरंग रोधी अभियान शुरू कर दिया है. बूरा ने कहा कि BSF, आतंकवादियों के नापाक मंसूबों को नाकाम करने के लिए सेना, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) और पुलिस के साथ संयुक्त रूप से गश्त भी कर रही है.

राजस्थान में बड़ा रेल हादसा, पटरी से उतरे मालगाड़ी के 14 डिब्बे, कई ट्रेनें रद्द

स्कूली छात्रों को न हो तनाव, इसलिए स्कूलों में काउंसलर नियुक्त करेगी खट्टर सरकार

राष्ट्रीय मतदाता दिवस आज, जानिए कब और क्यों हुई थी इस दिवस की शुरुआत

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -