उत्तराखंड पुलिस के दूसरे दल ने भी माउंट एवरेस्ट पर लहराया तिरंगा

रविवार को उत्तराखंड पुलिस दल के पांच सदस्यीय दल ने इतिहास रचते हुए  दुनिया की सबसे ऊँची पर्वत चोटी माउंट एवरेस्ट पर आरोहण का जो कारनामा कर दिखाया था उसी गौरवपूर्ण कार्य को आगे बढ़ाते उत्तराखंड पुलिस के तीन सदस्यीय दूसरे दल ने भी सोमवार को एवरेस्ट पर परचम लहरा दिया है. इसके साथ ही पहली बार आठ पुलिसकर्मियों ने माउंट एवरेस्ट फतह कर एक नया कीर्तिमान बनाया है.

माउंट एवरेस्ट पर आरोहण के लिए चार सदस्यीय दल टीम लीडर डिप्टी कमांडेंट एसडीआरएफ नवनीत भुल्लर,इंस्पेक्टर संजय उप्रेती, फायरमैन रवि चौहान और आरक्षी वीरेंद्र काला गए थे पर टीम लीडर नवनीत भुल्लर को ऑक्सीजन खत्म होने की वजह से 8300 मीटर (27230.97 फुट) की चढ़ाई पूर्ण करने के बाद लीडिंग फायरमैन 
 रोशन कोठारी और आरक्षी नागरिक पुलिस सुशील कुमार के साथ वापस लौटना पड़ा और इसी कारण से शिखर पर तीन सदस्य ही पहुँच पाए है. 


बता दें कि इसके पहले ही रविवार सुबह पहले ग्रुप में शामिल आरक्षी मनोज जोशी, विजेंद्र कुड़ियाल, सूर्यकांत उनियाल, फायरमैन प्रवीण सिंह और योगेश रावत ने माउंट एवरेस्ट पर पहुंचने में सफलता पा ली थी और नया इतिहास बनाया था. पुलिस दल कि एक और उपलब्धि पर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक अनिल रतूडी ने प्रसन्नता जाहिर करते हुए सभी को बधाई दी है. 

उत्तराखंड पुलिस ने रचा इतिहास, एवरेस्ट फतह करने वाला देश का पहला पुलिस दल बना

उत्तराखंड शिक्षा बोर्ड: 10वीं और 12वीं कक्षा के परिणाम 26 मई को आएंगे

मानसून सूचना : उत्तराखंड में उम्मीद से पहले बरसेंगे बदल,एक हफ्ते पहले आएगा मानसून

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -