भारत-नेपाल के रिश्ते पर बोले सीएम योगी, कहा-प्राचीन काल से दो शरीर हैं, लेकिन...

भारत-नेपाल के रिश्ते पर बोले सीएम योगी, कहा-प्राचीन काल से दो शरीर हैं, लेकिन...

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारत-नेपाल के सांस्कृतिक और आध्यात्मिक संबंध को  साझी विरासत बताया है. उन्होंने कहा कि इसमें राजनीति बाधक नहीं होनी चाहिए. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को कालिदास मार्ग स्थित अपने सरकारी आवास पर आयोजित द्वितीय भारत-नेपाल द्विपक्षीय वार्ता को संबोधित कर रहे थे. कार्यक्रम इंडिया फाउंडेशन, नीति अनुसंधान प्रतिष्ठान नेपाल और नेपाल-इंडो चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (एनआइसीसीआइ) काठमांडू ने आयोजित किया.

क्या माइक्रोसॉफ्ट सीईओ 'सत्या नडेला' का भारत दौरा होगा सफल?

अपने बयान में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि दोनों देशों के लिए यह बेहतरीन पहल है. भारत-नेपाल प्राचीन काल से दो शरीर हैं, लेकिन हमारी सांस्कृतिक विरासत एक-दूसरे को एकात्म में जोड़ती है. दोनों देशों का एक-दूसरे से हित जुड़ा है. उन्होंने कहा कि भारतीय सेना में नेपाल के लोग एक सामान्य सिपाही से लेकर उच्च पदों पर हैं. ये भारत का विश्वास है. इसी विश्वास पर साझी विरासत टिकी है.

दिल्ली में हार के बाद सिंधिया ने दिया बड़ा बयान, कहा- "हमें एक नई विचारधारा की जरुरत...''

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि योगी ने आगे कहा कि नेपाल टूरिज्म का सबसे बड़ा हब बन सकता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काशी विश्वनाथ से पशुपतिनाथ जी को जोड़ा है. जनकपुरी से अयोध्या को जोड़ा गया. वाराणसी अगर स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित हो रहा है तो काठमांडू क्यों पीछे रहे? मुख्यमंत्री ने कहा कि नेपाल को पहचानना होगा कि उसका शत्रु कौन है और मित्र कौन है? सुझाव दिया कि काशी विश्वनाथ मंदिर की तरह नेपाल अपने मंदिरों और सांस्कृतिक धरोहर को रोजगार से जोड़ सकता है.

दिल्ली में मिली हार पर बोले मनोज तिवारी, कहा-आठ फीसद वोट बढ़ना मामूली बात नहीं है...

दिल्ली : मनोज तिवारी की कुर्सी पर सबकी नजर, तय नियमों से चुनाव होने की संभावना

दिल्ली जीतने के बाद सीएम केजरीवाल का बड़ा बयान, कहा-अपने बेटे को आशीर्वाद देने ज़रूर आना...