NDA में सीटों के बंटवारे पर जारी है माथापच्ची

पटना : बिहार में विधानसभा के लिए मतदान की तारीखों का ऐलान होने के बाद राजनीतिक दलों की सक्रियता बढ़ने लगी है। दलों द्वारा अपने प्रतिनिधियों के नामों और सीटों पर विचार किया जा रहा है। हालांकि गठबंधन की राजनीति में दलों द्वारा अपने उम्मीदवारों के लिए अधिक से अधिक सीटों की मांग की जा रही है। यही पसोपेश राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में भी बना हुआ है। गठबंधन के अंतर्गत शामिल और बिहार की राजनीति के प्रमुख दल लोजपा और आरएलएसपी द्वारा अपने लिए अधिक से अधिक सीटों की मांग की जा रही है।

इस दौरान उन्होंने कहा कि सीटों के बंटवारे को लेकर चर्चा चल रही है। मगर प्रमुख तौर पर एलजेपी के प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान अधिक सीटों की मांग पर अड़े हुए हैं। भाजपा केवल 35 सीट ही देने को तैयार है जबकि एलजेपी अधिक सीटों की मांग पर अड़ी हुई है। उनका कहना है कि 40 सीटें तो एलजेपी को देना ही होंगीं। माना जा रहा है कि पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह और उनके बेटों ने एलजेपी से कन्नी काट ली है।

अब वे जेडीयू का दामन थाम रहे हैं। ऐसे में उनके स्थान पर हम को सीटें दी जा रही हैं, जिसे लेकर पासवान नाराज़ हैं। कहा जा रहा है कि लोजपा को 35 या 40, रालोसपा को 20 या 25 और हम को 15 से 20 सीटें आवंटित की जाऐंगी। इस मामले में सहयोगी दल राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुशील कुमार मोदी से चर्चा करने में लगे हैं। मामले को लेकर प्रदेश अध्यक्ष मोदी, नंदकिशोर यादव, मंगल पांडे को दिल्ली तलब किया गया है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -