परीक्षण के लिए रवाना देश की पहली स्वदेशी स्कॉर्पीन पनडुब्बी 'कलवरी'


नई दिल्ली : वैसे तो भारतीय नौसेना के पास पहले से भी कई पनडुब्बी थी लेकीन ऐसा पहली बार हुआ की देश में ही बनायीं गयी स्वदेशी पनडुब्बी कलवरी का परिक्षण किया गया हम आपको बता दे की इसे रविवार को परीक्षण के लिए मुंबई हार्बर से रवाना किया गया।

हम आपको जानकारी दे दे कि इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है की रडार भी से बच निकलने में  पूरी तरह से सक्षम है। देर तो हुई लेकिन हमारे लिए यह गर्व की बात है कि इस तरह की पहली पनडुब्बी बनाने में हमारा देश सफल हो गया,हम आपको बता दे कि  कलवरी भारत की छह स्कॉर्पीन श्रेणी की पनडुब्बियों में पहली है। जिसका निर्माण परियोजना 75 के तहत किया जा रहा है।

हलाकि इसके निर्माण में मझगांव डॉक लिमिटेड (एमडीएल), फ्रांसीसी कंपनी डीसीएनएस ने सहयोग दिया है सफल परिक्षण के बाद इसे नौ-सेना को समर्पित कर दिया जायेगा साथ ही हम आपको यह भी जानकारी दे दे कि पनडुब्बी के लिहाज से भारी वजन वाले टॉरपीडो खरीदने की योजना रक्षा मंत्रालय में अटकी हुई है । जिसे पूरा करने के लिए भारतीय नौ-सेना भी जोर दे रही है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -