पहली तिमाही में एसबीआई को हुआ 4,876 करोड़ का शुद्ध घाटा

नई दिल्ली : देश की सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया को अपने अनुमान के विपरीत  4,875.85 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ है. बैंक को यह घाटा अप्रैल से जून तिमाही के दौरान हुआ है. इस बीच चौंकाने वाली बात यह है कि एक पोल के रिजल्ट के अनुसार एसबीआई को जून तिमाही में 242 करोड़ रुपये का मुनाफा होना था, लेकिन बैंक की तीसरी तिमाही के नतीजें बिलकुल इसके विपरीत आये है. 

जेट एयरवेज दे रही है इंडिपेंडेंस डे ऑफर, मिलेगी इतनी छूट

बता दें कि बैंक को एक वर्ष पहले इसी तिमाही में जनवरी-मार्च 2017 के दौरान उसे 2,005.53 करोड़ रुपये का मुनाफ़ा हुआ था, जिसके बाद बैंक को इसी साल वित्त वर्ष 2018 में दिसंबर की तिमाही में  2,416.40 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. एसबीआई को इतना बड़ा घाटा पहली बार हुआ था. 

HDFC ने एफडी की ब्याज दरें बढ़ाई

इस घाटे के साथ ही बैंक को जून तिमाही में 21,798 करोड़ रुपये का मुनाफ़ा भी हुआ है. यह रकम बैंक के पास इंट्रेस्ट इनकम ब्याज के रूप में आई थी जो कि एक साल पहले तक  इसी तिमाही में17,606 करोड़ रुपये रही थी. पिछले वर्ष  अप्रैल-जून के दौरान बैंक का ब्याज मुनाफ़ा  54,905.40 करोड़ रुपये रहा था जो कि इस वर्ष  7.1 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 58,813.18 करोड़ रुपये रहा.

ख़बरें और भी...

कारोबार के आखिरी दिन बाज़ार में आई में गिरावट...

सबसे बड़ी फर्नीचर कंपनी आइकिया ने भारत में खोला अपना पहला स्टोर

सेंसेक्स पहली बार 38,000 पर...

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -