एसबीआई ने बेसल-III के अनुरूप बांड जारी करके एकत्र किए 5000 करोड़ रुपये

Oct 27 2020 12:42 PM
एसबीआई ने बेसल-III के अनुरूप बांड जारी करके एकत्र किए 5000 करोड़ रुपये

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने 26 अक्टूबर को कहा कि बैंक ने बेसल- III अनुपालन बांड जारी करके 5,000 करोड़ रुपये जुटाए हैं। भारतीय स्टेट बैंक ने एक नियामक फाइलिंग में कहा कि भारतीय स्टेट बैंक की निदेशक समिति ने सोमवार को एक बैठक की और 50,000 बेसल- III अनुपलब्ध, कर योग्य ऋण उपकरणों को आवंटित करने के लिए अपनी मंजूरी का समझौता किया। बैंक ने कहा कि डिबेंचर के रूप में 10 लाख रुपये के अंकित मूल्य की बैंक की टियर II पूंजी के रूप में अर्हता प्राप्त करते हुए, 26 अक्टूबर, 2020 को बांड ग्राहकों को 5.83 प्रतिशत के 5,000 करोड़ रुपये के कूपन का आवंटन किया गया।

भारतीय स्टेट बैंक ने कहा कि बॉन्ड पर ब्याज का भुगतान दस साल के कार्यकाल के लिए और कॉल ऑप्शन पर पांच साल के बाद सालाना किया जाएगा। कॉल ऑप्शन के तहत, बांड जारीकर्ता निवेशकों को मूल राशि वापस करके परिपक्वता तिथि से पहले बांड वापस बुला सकते है।

बेसल- III पूंजी नियमों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वीकृत बैंकिंग नियम हैं जिनके तहत बैंकों को अपनी पूंजी नियोजन प्रक्रियाओं को सुधारने और मजबूत करने की आवश्यकता है। परिसंपत्ति की गुणवत्ता पर संभावित तनाव और परिणामस्वरूप बैंकों के प्रदर्शन और लाभप्रदता पर चिंताओं को कम करने के लिए भारतीय बैंकों द्वारा 2013 से बेसल- III मानदंडों को लागू किया जा रहा है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में, एसबीआई के शेयर सोमवार को बीएसई पर 2.96 प्रतिशत कम 196.75 रुपये प्रति शेयर पर बंद हुए।

शुरूआती कारोबार में 100 अंक लुढ़का सेंसेक्स, निफ़्टी में भी गिरावट

घर बैठे आधार कार्ड में अपडेट कीजिए अपना मोबाइल नंबर, ये है आसान तरिका

कोटक महिंद्रा बैंक ने M-cap पोस्ट में ICICI बैंक को छोड़ा पीछे, दूसरे स्थान पर जा पहुंचा