ये छोटी-छोटी गलतियां फेर देंगी पूरे सावन महीने की मेहनत पर पानी

Aug 23 2018 03:53 PM
ये छोटी-छोटी गलतियां फेर देंगी पूरे सावन महीने की मेहनत पर पानी

रक्षाबंधन का पवित्र पर्व काफी नजदीक है और सावन का पावन माह खत्म होने को है. आप सभी जानते हैं कि यह महीना भगवान शिव को अति प्रिय होता है और इसी वजह से इन दिनों में भगवान शिव की चरों ओर भक्ति की जाती हैं. पूरे सावन माह में और विशेषकर स्वान के सोमवार को शिव को प्रसन्न कर अपनी मनोकामना की पूर्ती की जाती हैं. लेकिन क्या आपको पता हैं कि आपकी एक साधारण सी गलती की वजह से की गई पूजा का फल आपको प्राप्त नहीं हो पाता हैं. आज हम आपको शिव जी की पूजा के दौरान होने वाली छोटी-छोटी गलतियों के बारे में हम बताने जा रहे हैं. तो आइये जानते हैं कौन-सी है वे गलतियां...

केवल व्रत के लिए नहीं कपडों के रंगों के लिए भी काफी महत्वपूर्ण है सावन का महीना

-शास्त्रों के मुताबिक़, शिवलिंग का जल से अभिषेक करने के बाद कभी भी शिवलिंग की पूरी परिक्रमा हमें नहीं करनी चाहिए बल्कि आधी ही परिक्रमा करनी चाहिए नहीं तो पूजा का फल हमें नहीं नहीं मिल पाता है.  

- सावन के महीने में दूध का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि बरसात में दूध पीने से पित्त बढ़ने लगता है. इसलिए सावन के महीने में शिवजी को दूध से अभिषेक किया जाता है क्योंकि भोलेनाथ विष को हर लेते हैं. 

- सावन में बैंगन नहीं खाना चाहिए. इसका धार्मिक कारण है कि बैंगन को शास्त्रों में अशुद्ध बताया गया है. साथ ही वैज्ञानिक कारण यह है कि सावन में बैंगन में कीड़े अधिक लगते हैं. जिससे कि बैंगन का स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है.  

- कई बार लोग भूलवश शिवलिंग पर जल चढ़ाते समय शिवलिंग पर हल्दी भी लगा देते हैं जिसे शिवपूजा में वर्जित माना गया है. ऐसा इसलिए क्योंकि शिवलिंग पुरूष तत्व से संबंधित होता है इस कारण से शिवलिंग पर हल्दी चढ़ाना वर्जित है. 

यह भी पढ़ें...

सावन के अंतिम सात दिनों में करें 7 उपाय, होगा लाभ

Sawan Month 2018 : सावन के आखिरी सोमवार को शिव दर्शन के लिए भक्तों की उमड़ी भीड़

सावन का चौथा सोमवार दिलाएगा राजयोग

?