'मैं न किसी दल में शामिल होऊंगा, न ही चुनाव लडूंगा', रिटायर होने के बाद बोले सत्यपाल मलिक

शिलांग: मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक बीते कल 30 सितंबर को अपने पद से रिटायर हो गए हैं। जी दरअसल पहले ऐसा माना जा रहा था कि रिटायरमेंट के बाद वह सक्रिय राजनीति में आ सकते हैं। जी हाँ और उन्होंने पहले से ही बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है। वहीं, हाल ही में मलिक से जब पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वर्तमान पद से रिटायरमेंट के बाद वह न तो किसी राजनीतिक दल में शामिल होंगे और न ही किसी पद के लिए चुनाव लड़ेंगे। जी दरअसल मलिक ने अपनी इस टिप्पणी से उन अटकलों पर विराम लगा दिया है कि वह राष्ट्रीय लोकदल (RLD) में शामिल हो सकते हैं।

आपको बता दें कि मेघालय के राज्यपाल के रूप में बीते शुक्रवार (30 सितंबर) को मलिक का कार्यकाल पूरा हो चुका है। ऐसे में रिटायरमेंट के बाद की योजनाओं को लेकर मलिक ने कहा, ‘‘अभी तक मेरे पास कोई योजना नहीं है। मैं केवल उन गतिविधियों में भाग लूंगा जो किसानों से जुड़ी होंगी। मैं न तो किसी दल में शामिल होऊंगा और न ही कोई चुनाव लडूंगा।’’

जी दरअसल इससे पहले यह अटकलें लगाई जा रही थी कि मलिक RLD में शामिल हो सकते हैं। यह कयास उन विज्ञापनों को देखने के बाद लग रहे थे, जिनमें दिखाया गया था कि वह 3 अक्टूबर को शामली जिले में आयोजित एक 'किसान सम्मेलन' में भाग लेंगे और रालोद प्रमुख जयंत चौधरी के साथ मंच साझा करेंगे। हालाँकि मलिक ने स्पष्ट किया, ‘‘शामली की सभा एक गैर राजनीतिक थी और किसानों के लिए आहूत की गई थी, हालांकि धारा 144 लागू होने के चलते अब इसे कैंसिल कर दिया गया है।"

माफिया अतीक अहमद के भाई सहित छह पर आरोप तय, दिनदहाड़े की थी 'विधायक' की हत्या

ट्रेन से यात्रा करने वालों के लिए जरुरी खबर, इन ट्रेनों का बदला समय

'लोगों ने आत्मनिर्भर भारत का मज़ाक उड़ाया, लेकिन आज..', 5G लॉन्च पर बोले मोदी

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -