बड़े से बड़े बॉलीवुड स्टार को अपने इशारों पर नचवाती हैं ये महिला

Nov 22 2018 10:42 AM

बॉलीवुड फिल्मों में सभी कलाकारों को अपने इशारों पर नचवाने वाली कोरियोग्राफर सरोज खान आज अपना 70 वां जन्मदिन मना रही हैं. सरोज का जन्म 22 नवंबर 1948 को मुंबई में हुआ था. सरोज ने लगभग 30 साल पहले आई फिल्म 'तेजाब' के गाने 'एक दो तीन' के जरिए बॉलिवुड में हंगामा मचा दिया था. आज भी इस गाने का असर कम नहीं हुआ है. सरोज द्वारा क्रोयोग्राफ किये गए उस गाने में फिल्म की ऐक्ट्रेस माधुरी दीक्षित का डांस इतना जबरदस्त था कि फिल्मफेयर ने उस डांस को देखते हुए अपने अवॉर्ड्स की लिस्ट में एक अलग कैटिगरी बना डाली थी- 'बेस्ट कोरियॉग्रफी'.

आपको बता दें सरोज ने इस अवॉर्ड को अपने नाम किया था. इसके बाद सरोज को 'मदर ऑफ डांस ऐंड कोरियॉग्रफी इन इंडिया' के नाम का सम्मान प्राप्त हुआ था. सरोज ने अपने नाम किए कई अवॉर्ड दर्ज करवाए हैं. सरोज का जन्म महाराष्ट्र में 22 नवंबर, 1948 को हुआ था. सरोज का असल नाम निर्मला नागपाल था लेकिन बाद में उन्होंने अपना नाम बदलकर सरोज खान कर लिया था, सरोज ने बैकग्राउंड डांसर के रूप में 1950 के दशक में एप करियर की शुरुआत की थी.

आपको बता दें सरोज ने अपने 40 साल से भी ज्यादा के करियर में 2000 से ज्यादा गाने कोरियॉग्राफ किए हैं. जी हाँ... और सरोज ने फिल्म देवदास के गाने 'डोला रे डोला', 'श्रृंगारम' के सारे गानों और 'जब वी मेट' के गाने 'ये इश्क हाये' के लिए नैशनल अवॉर्ड अपने नाम किया है. सरोज को फिल्म 'गुरु', 'देवदास', 'हम दिल दे चुके सनम', 'खलनायक', 'बेटा', 'सैलाब', 'चालबाज' और 'तेजाब' के लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड से नवाजा जा चुका है. इसके साथ ही सरोज को साल 2002 में उन्हें फिल्म लगान के लिए आउटस्टैंडिंग अचीवमेंट इन फीचर फिल्म का अमैरिकन कोरियॉग्रफी अवॉर्ड भी मिल चुका है.

सानिया मिर्ज़ा ने बेटे इजान के साथ शेयर की पहली तस्वीर, नजर आया बेहद क्यूट लुक

इश्कबाज़ छोड़ते ही फूट-फूटकर रोईं सुरभि चंदना!

फिल्म प्रमोशन के लिए मेकर्स ने पोस्‍टर के साथ लटका दी आदमी की लाश