सिंघु बॉर्डर पर किसान संगठनों की बैठक, चुनाव लड़ने को लेकर आपस में ही होने लगी बहस

नई दिल्ली: दिल्ली- NCR से लगे सिंघु सीमा पर संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) की रिव्यू बैठक आरंभ हुई. वहीं, बैठक की शुरुआत में ही चुनाव लड़ने के मुद्दे को लेकर किसान नेताओं में आपस में जमकर बहस हुई. वहीं, मीटिंग के बाद शाम 5 बजे SKM की प्रेस वार्ता होगी. इस बैठक में हरियाणा और उत्तर प्रदेश की सरकारों के साथ केंद्र सरकार द्वारा किए गए वादों और आश्वासनों की समीक्षा होनी है.

ऐसे में आज होने वाली इस बड़ी बैठक में कई और ऐलान भी होने की संभावना हैं. वहीं, इस बैठक में किसान नेता फैसला लेंगे कि केन्द्र सरकार के साथ जिन शर्तों के आधार पर समझौता हुआ था वो पूरे हुए या नहीं. दरअसल, किसान संगठनों की इस मीटिंग में SKM की नई भूमिका को लेकर भी मंथन होगा. हालांकि बताया जा रहा है कि इस बैठक में मीटिंग के अहम मुद्दे, MSP पर कमेटी को लेकर, तमाम राज्यों में किसानों पर दर्ज केस, और गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी पर कार्रवाई को लेकर बातचीत होने वाली है. 

वहीं, किसान नेता योगेंद्र यादव ने कहा है कि SKM के जो सदस्य हैं, वह सभी बैठक में शामिल हो रहे हैं. हमने 9 दिसंबर को कहा था कि 15 जनवरी को वापस आएंगे और मूल्यांकन करेंगे कि सरकार द्वारा जो वादे किए गए हैं, वह पूरे हुए हैं या नहीं. चूंकि सरकार का वादा था कि सभी राज्यों में किसानों पर दर्ज केस वापस हो जाएंगे, सरकार मुआवजा देगी, MSP पर कमेटी बनाएगी. बैठक में इन्ही सब मुद्दों का मूल्यांकन होना है.

यूपी चुनाव में पीएम मोदी ने खुद संभाला मोर्चा, टिकट बंटवारे पर बैठक में हुए शामिल

यूपी चुनाव: क्या अयोध्या में 'मोदी की काशी' जैसा करिश्मा कर पाएंगे योगी आदित्यनाथ ?

फर्म में निवेशकों को गुमराह करने के आरोप में इस कंपनी के संस्थापक को 26 सितंबर को होगी जेल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -