संतोष ट्रॉफी: रोमांचक फाइनल में केरला ने जीता ख़िताब

कोलकाता:  गोलकीपर मिधुन वी के शानदार खेल के दम पर केरल ने संतोष ट्रॉफी के लिए 72वीं राष्ट्रीय फुटबाल चैंपियनशिप के फाइनल में गत चैंपियन बंगाल को पेनल्टी शूटआउट में 4-2 से हराकर खिताब जीता. निर्धारित और अतिरिक्त समय के बाद दोनों टीमें 2-2 से बराबर थी जिसके बाद नतीजे के लिए शूट आउट का सहारा लिया गया. केरल का यह छठा संतोष ट्रॉफी खिताब है जो उसने 13 साल बाद जीता है. सांसे थाम देने वाले इस रोमांचक मुकाबले के निर्धारित 90 मिनट के बाद मैच 1-1 से बराबर रहा. अतिरिक्त 30 मिनट के खेल के बाद मैच 2-2 से बराबर रहा. 

संतोष ट्रॉफी का खिताब 32 बार जीतने वाले बंगाल के घरेलू मैदान विवेकानंद युवा भारती क्रीड़ांगण (साल्टलेक स्टेडियम) में खेले गए मैच के 19वें मिनट में ही जितिन एमएस ने गोल कर केरल के 1-0 से बढ़त दिला दी. पहले हाफ में केरल ने बढ़त बरकरार रखी. दूसरे हाफ में 68वें मिनट में बंगाल के जितेन मुर्मू ने गोल कर स्कोर 1-1 से बारबर कर दिया. इसके बाद निर्धारित समय तक कोई भी टीम गोल नहीं कर सकी और मैच का निर्णय करने के लिए अतिरिक्त समय लिया गया.

मैच के 117वें मिनट में विबिन थॉमस के गोल से केरल ने एक बार फिर बढ़त कायम की. अतिरिक्त समय के इंजरी टाइम में बंगाल के तीर्थंकर सरकार ने गोल कर फिर से स्कोर को बराबरी (2-2) पर ला दिया जिसके बाद मैच का फैसला पेनल्टी शूटआउट से निकला. केरल के खिलाड़ियों ने शुरुआती चारों पेनल्टी को गोल में बदला. ये गोल राहुल वी राज, जितिन गोपालन, जस्टिन जॉर्ज और सीसान एस ने किए.शूटआउट के हीरो मिधुन रहे जिन्होंने बंगाल के अंकित मुखर्जी और नबी हुसैन खान के पहले दोनों पेनल्टी शॉट को रोक लिया.

मैनचेस्टर युनाइटेड की एक और जीत

संतोष ट्रॉफी: केरल और बंगाल को फाइनल का इंतजार

इस दिग्गज खिलाड़ी ने दिए बार्सिलोना क्लब छोड़ने के संकेत

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -