संजय राउत का बड़ा बयान, कहा- मेने की थी दाऊद से मुलाकात...

संजय राउत का बड़ा बयान, कहा- मेने की थी दाऊद से मुलाकात...

मुंबई: हाल ही में शिवसेना सांसद संजय राउत ने एक इंटरव्यू में उदयनराजे भोसले पर हमले से लेकर दाऊद से मुलाकात तक कई मुद्दों पर बेबाकी से अपनी बात को सामने रखा. वहीं राउत ने ये भी खुलासा किया कि उन्होंने एक बार मुंबई बम धमाके के आरोपी दाऊद इब्राहिम से मुलाकात की थी. NPC प्रमुख शरद पवार की भी उन्होंने जमकर  सराहना की. वहीं यह भी कहा जा रहा है कि एक मीडिया समूह को दिए इंटरव्यू में राउत ने बीजेपी नेता उदयनराजे भोसले को निशाने पर लेते हुए कहा कि वह सबूत दें कि वो छत्रपति शिवाजी के वंशज हैं. जंहा उन्होंने कहा कि मराठा योद्धा शिवाजी पर किसी का एकाधिकार नहीं है. शिवाजी महाराज एक भगवान की तरह थे और कोई उनकी पूजा करने की इजाजत नहीं लेता है. राउत ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार की भी जमकर तारीफ की और कांग्रेस नेता राहुल गांधी को नसीहत दी. लेकिन राउत ने शरद पवार को जाणता राजा करार देते हुए कहा कि महाराष्ट्र की जनता ने भी उन्हें यही नाम दिया है. 

दाऊद से मुलाकात: सूत्रों से मिली जानकरी के अनुसार इस दौरान राउत ने एक चौंकाने वाला खुलासा करते हुए बताया कि मैंने 1993 मुंबई सीरियल धमाके में प्रमुख आरोपी दाऊद इब्राहिम से भी मुलाकात की थी और उसे लताड़ लगाई थी. वहीं उन्होंने कहा कि एक वक्त था जब दाऊद इब्राहिम, छोटा शकील, शरद शेट्टी तय करते थे कि मुंबई का पुलिस कमिश्नर कौन होगा, कौन मंत्रालय में बैठेगा. लेकिन इंदिरा गांधी करीम लाला से मुलाकात करती थीं. हमने उस वक्त का अंडरवर्ल्ड देखा है. अब तो बस चिल्लर रह गया है. वहीं यह काह जा रहा है कि राहुल गांधी को सलाह देते हुए राउत ने कहा कि कांग्रेस नेता को रोज 15 घंटे पार्टी दफ्तर में मौजूद रहना चाहिए. 

'आज के शिवाजी: आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि नरेंद्र मोदी' किताब पर उठे विवाद के बीच राउत ने कहा, हर बार यही कहा जाता है कि वंशजों से पूछो. जब शिवसेना का नाम रखा गया था, 'शिव' शब्द का इस्तेमाल हुआ था, क्या आपने वंशजों पर कुछ पूछा था? उदयनराजे भोसले को सबूत देना चाहिए कि वह छत्रपति शिवाजी के वंशज हैं. 

ईरान पर हमले की फोटोज हुई वायरल, वीडियो बनाने वाला हुआ गिरफ्तार

उमा भारती का बड़ा बयान, कहा- मणिशंकर एक शिक्षित व्यक्ति...

ईराक को बड़ा झटका, 2014 में की गई गलती का अब हो रहा एहसास