श्रमिकों से ट्रेन के टिकट का पैसा लेने को लेकर अखिलेश यादव ने बोली यह बात

देशव्यापी लॉकडाउन में महाराष्ट्र के नासिक रोड में फंसे 847 लोग ट्रेन से लखनऊ पहुंचने के बाद रोडवेज की बसों से अपने-अपने गृह जनपद रवाना हो गये. विशेष ट्रेन से लखनऊ पहुंचे श्रमिकों से टिकट की कीमत वसूलने को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बेहद शर्मनाक बताया है.

इन राज्यों ने की मजदूरों से घर न जाने की गुजारिश

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि समाजवादी पार्टी के अखिलेश यादव ने इसको लेकर एक ट्वीट भी किया और कोविड केयर फंड पर भी सवाल उठाया. अखिलेश यादव ने कहा कि अगर गरीबों से ही ट्रेन के टिकट के पैसे लेने थे तो कोविड केयर फंड में जो खरबों रुपया डलवाया गया है उसका क्या होगा. अखिलेश यादव ने केंद्र के साथ उत्तर प्रदेश सरकार पर निशाना साधा है. अखिलेश यादव ने कहा कि नासिक से ट्रेन से लखनऊ लाए जा रहे मजदूरों से रुपये वसूली का कृत्य बेहद शर्मनाक है. उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश में भी आरोग्य सेतु एप से सौ-सौ रुपए वसूले जाने की खबर है.

आखिर क्यों एनसीपी, शिवसेना और कांग्रेस केंद्र से है नाराज ?

इसके अलावा अखिलेश यादव ने रविवार सुबह दो ट्वीट किए. उन्होंने पहले ट्वीट में लिखा, ट्रेन से वापस घर ले जाए जा रहे गरीब, बेबस मजदूरों से भाजपा सरकार का रुपया वसूलना बेहद शर्मनाक है. आज साफ हो गया है कि पूंजीपतियों का अरबों माफ करनेवाली भाजपा अमीरों के साथ है और गरीबों के खिलाफ. विपत्ति के समय गरीबों का शोषण करना सूदखोरों का काम होता है, सरकार का नहीं.

मेक्सिको में बढ़ रही कोरोना की मार, संक्रमितों की संख्या 22 हजार के पार

लॉकडाउन में सरकारी गोदाम से गायब हुआ 5 अरब रुपये का गेहूं, मचा हड़कंप

पाक में कोरोना से हाहाकार, मृतकों के आंकड़े उड़ा देंगे होश

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -