हिंदुत्व पर सलमान खुर्शीद ने मारी पलटी, पहले ISIS से तुलना, अब बोले - ये जीवन पद्धति

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने एक निजी न्यूज़ चैनल के कार्यक्रम में हिंदुत्व के मुद्दे पर बेबाकी से अपनी राय रखी. इस दौरान सलमान खुर्शीद ने कहा कि हिंदुत्व एक जीने की पद्धति है. हिंदुत्व  के इस पद्धति को कुछ लोग बदल रहे हैं. ऐसे लोग हिंदुत्व की जीवन पद्धति को बिगाड़ रहे हैं. इसके साथ ही खुर्शीद ने कहा कि जो धर्म में नहीं है, उसे धर्म से न जोड़ें. 

बता दें कि सलमान खुर्शीद ने हाल ही में अपनी पुस्तक सनराइज ऑफ अयोध्या का विमोचन किया है. इस पुस्तक में हिंदुत्व की ISIS और बोको हरम जैसे आतंकी संगठनों से तुलना करके खुर्शीद ने एक बड़ा विवाद खड़ा कर दिया है. अब सलमान खुर्शीद ने इस पर सफाई पेश की है. उन्होंने कहा कि आग तो लगी हुई है. जिसे बुझाना है. इसलिए पुस्तक लिखी, यदि लोगों को नहीं मालूम की सूर्य उदय क्या होता है. तो मुझे काफी कष्ट होगा.

पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने आगे कहा कि, 'मैंने अंधकार की बात नहीं की, यदि हिंदू धर्म के लोगों को नहीं मालूम की सूर्य उदय क्या होता है. तो मुझे काफी कष्ट होगा. मैनें सूर्यास्त या सनसेट नहीं कहा. मैंने अंधकार की बात नहीं की. मैंने एक उम्मीद की बात कही. हिंदुत्व की तुलना बोको हराम और ISIS जैसे खूंखार इस्लामी आतंकी संगठनों से करने के प्रश्न पर खुर्शीद ने कहा कि  हिंदुत्व एक वे ऑफ लाइफ है. एक जीने की पद्धति है, मगर धर्म में परिवर्तन करना कठिन है, किन्तु वे ऑफ लाइफ में परिवर्तन हुए हैं.

सीएम नीतीश पर तेजस्वी का हमला, बोले- नेताओं को रिहा करने की अनिच्छा राजनीति से है प्रेरित...

विपक्षी दल अपने दम पर बीजेपी से नहीं लड़ सकते: दिनेश शर्मा

वाजिद अली शाह प्राणी उद्यान के 100 वर्ष हुए पूरे, समरोह में पहुंचकर सीएम योगी ने की इनसे मुलाकात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -