21 जनवरी को है सकट चौथ, धन प्राप्ति-मनचाही नौकरी के लिए करें यह उपाय

माघ मास (Magh Month) की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को सकट चौथ (Sakat Chauth) और तिलकुटा चौथ मनाया जाता है। जी दरअसल हर चतुर्थी की तरह इस दिन भी गणेश भगवान का पूजन करते हैं। आप सभी को बता दें कि सकट चुतर्थी के दिन ज्यादातर महिलाएं अपनी संतान की लंबी आयु की कामना के साथ निर्जल व्रत रखती हैं। वहीं इस दिन शाम के समय गणपति के पूजन और चंद्र को अर्घ्य देने के बाद वे फलाहार लेती हैं। वैसे इस बार सकट चौथ 2022 का व्रत (Sakat Chauth Vrat 2022) 21 जनवरी को शुक्रवार के दिन है। ऐसे में सकट चौथ व्रत को सभी संकटों का दूर करने वाला दिन मानते हैं और कहा जाता है इस दिन यदि विघ्नहर्ता गणेश की कृपा प्राप्त हो जाए तो जीवन खुशियों से भर जाता है। अब आज हम आपको बताने जा रहे हैं सकट चौथ के दिन किये जाने वाले उपाय।

मनचाही नौकरी के लिए- अगर आपके करियर में उतार चढ़ाव की स्थिति है, या आप मनचाही नौकरी पाना चाहते हैं तो सकट चौथ के दिन गणपति को पान के पत्ते पर दो हरी इलायची और दो सुपारी रखकर चढ़ाएं। वहीं इसके बाद विघ्न हर्ता से अपने संकट को दूर करने की प्रार्थना करें।


धन संकट दूर करने के लिए- परिवार आर्थिक संकट से जूझ रहा है तो सकट चौथ के दिन एक लाल कपड़े में एक सुपारी रखें। गणपति पूजन के दौरान श्रीयंत्र और सुपारी की भी पूजा करें। वहीं इसके बाद उस सु​पारी को उसी लाल कपड़े में लपेटकर अपनी तिजोरी में रख लें।

तरक्की प्राप्त करने के लिए- चौथ वाले दिन घर की उत्तर-पूर्व दिशा में एक चांदी के पात्र में सुपारी रखें। हर दिन पूजा करने के बाद इसे भी धूप-दीप दिखाएं। 

संतान प्राप्ति के लिए- संतान प्राप्ति के लिए सकट चौथ के दिन निर्जल व्रत रखें और इसके बाद शाम को गणपति का पूजन करके कथा पढ़ें। आप इस दिन गणपति को तिलकुट का भोग लगाएं और चंद्र को अर्घ्य देने के बाद फलाहार लें। 

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही सिम्बु की तस्वीरें

अभिनेता और निर्माता बंदला गणेश दूसरी बार हुए कोविड पॉजिटिव

आखिर क्यों गणपति बप्पा को पसंद है मोदक?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -