सागर हत्याकांड: सुशील कुमार और उसके साथियों ने सागर को 40 मिनट तक पीटा था, चार्जशीट में खुलासा

नई दिल्ली: ओलंपिक मेडल विजेता रेसलर सुशील कुमार और उसके साथियों ने छत्रसाल स्टेडियम का दरवाजा भीतर से बंद करने के बाद पूर्व जूनियर राष्ट्रीय कुश्ती चैंपियन सागर धनखड़ और अन्य को डंडों, हॉकी और बेसबॉल की बैट से 30 से 40 मिनट तक पीटा था। मर्डर केस में दिल्ली पुलिस की तरफ से दाखिल आरोप-पत्र में यह जानकारी सामने आई है। धनखड़ और उसके चार दोस्तों के साथ प्रॉपर्टी विवाद को लेकर चार और पांच मई की दरम्यानी रात को स्टेडियम में कुमार और अन्य ने कथित तौर पर मारपीट की थी। बाद में, घायल होने की वजह से सागर की मौत हो गई थी।

पुलिस की जांच में सामने आया कि सागर और उसके दोस्तों को दिल्ली में दो अलग-अलग जगहों से किडनैप कर स्टेडियम में लाया गया था, जिसके बाद गेट को भीतर से बंद कर दिया गया था और सुरक्षा गार्डों को वहां से जाने को कहा गया था। पुलिस ने 1,000 पन्नों की अपनी अंतिम रिपोर्ट में कहा कि, 'स्टेडियम में, सभी पीड़ितों को घेर लिया गया था और आरोपियों ने उन्हें बेहरमी तरह से पीटा। सभी पीड़ितों को 'लाठी', 'डंडों', हॉकी, बेसबॉल के बल्लों आदि से लगभग 30 से 40 मिनट तक पीटा गया।' मामले की जांच कर रही क्राइम ब्रांच ने यह भी खुलासा किया कि कुछ आरोपी वहां बंदूक लेकर आए थे और उन्होंने पीड़ितों को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी थी। 

इस बीच, एक पीड़ित मौके से निकलने में सफल हो गया और उसने पुलिस को कॉल किया, जिसके बाद स्थानीय पुलिस एवं PCR वैन के कर्मी स्टेडियम पहुंचे। जांच में सामने आया है कि, 'जैसे ही आरोपियों ने पुलिस सायरन सुना, वे मृतक सागर और घायल सोनू को स्टेडियम के भूमिगत स्थान पर ले गए। आरोपियों ने दोनों पीड़ितों को घायल अवस्था में वहां छोड़ा और मौके से भाग निकले।'

Tokyo Olympics: पीवी सिंधु को मेडल जीतने पर कोच गोपीचंद ने दी बधाई, लेकिन साइना नेहवाल ने....

सागर धनखड़ हत्याकांड: सुशील कुमार की मुश्किलें बढ़ीं, क्राइम ब्रांच ने दाखिल की 170 पन्नों की चार्जशीट

Tokyo Olympics में भारत की जीत पर सीएम अमरिंदर ने लिखी ऐसी बात, कि मच गया बवाल

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -