अखाड़ो मे महिलाओ के साथ होने वाले दुर्व्यवहार पर साध्वी का बयान

इंदौर : आज जहां हर तरफ आप लोग महिलाओ पर होने वाले दुर्व्यवहार के बारे मे पढ़ते हैं, वो सिर्फ एक सामाजिक महिला पर ही नही होते हैं बल्कि साध्वी भी इससे अछूती नही हें। इलाहाबाद से आई गायत्री त्रिवेणी पीठ कि पीठाधीश्वर साध्वी त्रिकाल भवन्ता ने अखाड़ा परिषद पर आरोप लगाए हैं कि अखाड़े के मठाधीश पेसे लेकर किसी को भी महामंडलेश्वर बना देते हैं। इलाहाबाद से आई साध्वी भवन्ता यहा उज्जैन सिंहस्थ मे महिला अखाड़ा तथा आखाडा की सुविधाओ कि मांग करने आई हैं।

भवन्ता ने बताया कि महिला अखाड़ा होने कि वजह से उन्हे कही भी प्राथमिकता नही दी जाती हैं और न ही अन्य अखाड़े कि तरह सुविधाए और पेसे दिये जाते हैं। ज्ञात हो कि अभी नासिक मे हुये अर्धकुंभ मे भी महिला अखाड़े को लेकर उनका विवाद अखाड़ा परिषद से हो चुका हैं इतना ही नही उन्होने आरोप लगाए हें कि अखाड़ो मे महिलाओ का शोषण हो रहा हैं किन्तु कोई भी इसके खिलाफ आवाज नही उठाता हें क्यूकी सभी डरती हैं ज्ञात हो कि त्रिकाल भवन्ता ने अकेले ही महिला अखाड़ा का गठन किया हैं। जिसको एक पहचान दिलाने के लिए वो निरंतर प्रयासरत हैं।

उन्होने ये भी आरोप लगाए हे कि प्रशासन भी अखाड़ा परिषद के आदेश पर ही काम कर रहा हैं। जिससे साध्वी भवन्ता को और भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं। कोई नही हैं जिसके सामने वो अपनी बात रख सकें। इससे इतना तो साबित होता हैं कि हमारे देश के कुछ लोग अपनी सोच को अभी भी नही बढ़ा पाये हैं। वो आज भी महिलाओ को कम ही समझते हैं और इन चंद लोगो कि वजह से ही आज त्रिकाल भवन्ता जेसी साध्वी को भी परेशान होना पड़ रहा हैं जो महिलाओ के लिए कुछ अलग सोच रही हैं।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -