कड़ी सुरक्षा के बीच साध्वी प्रज्ञा को उज्जैन ले जाया गया

उज्जैन: बुधवार को साध्वी प्रज्ञा को कड़ी सुरक्षा के बीच पुलिस की निगरानी में उज्जैन में चल रहे सिंहस्थ में कुंभ स्नान के लिए पहुंची. भोपाल से शाम 5 बजे उज्जैन पहुंची प्रज्ञा सबसे पहले रुद्रसागर शिविर पहुंची. उन्हें अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस एंबुलेंस में लाया गया।

अस्वस्थ होने के कारण उन्हें पंडित खुशीलाल शासकीय स्वशासी आयुर्वेद महाविद्यालय में भर्ती कराया गया था. उज्जैन के लिए प्रस्थान करने से पहले प्रज्ञा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उन्हें कोर्ट के फैसले का इंतजार है. उन्होने कहा कि सच परेशान हो सकता है, लेकिन पराजित नहीं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए उन्होने कहा कि एनआईए की क्लीन चिट की जगह चार्जशीट जमा की गई है। मालेगांव केस में खुद को निर्दोष बताते हुए उन्होने कहा कि वो निर्दोष सिद्ध होंगी. सुरक्षा कारणों से साध्वी प्रज्ञा को पुलिस ने बेहद गोपनीय ढंग से ले जाने की तैयारी की थी

लेकिन खबरें लीक हो जाने से उन्हें सिंहस्थ ले जाने का समय बदल दिया गया. उन्हें करीब पौने बारह बजे आयुर्वे महाविद्यालय से लेकर एंबुलैंस रवाना हुई. दो दिन पहले ही उन्होने आमरण अनशन शुरु किया था. प्रज्ञा ने मध्य प्रदेश सरकार को एक खत लिखा था, जिसमें कहा गया था कि यदि उन्हें सोमवार सुबह 9 बजे तक उज्जैन जाने की अनुमति नहीं दी गई, तो वो 10 बजे से अनशन पर बैठ जाएंगी।

सरकार ने प्रज्ञा की इस अर्जी को ठुकरा दिया था. इस पर प्रज्ञा ने कहा था कि आगे वो अपना देह त्याग देंगी और समाधि ले लेंगी, इसके बाद कोर्ट के आदेश के बाद वो सिंहस्थ पहुंची है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -