एयर स्ट्राइक पर बोले सचिन पायलट, पररक्रम पर राजनीति न करे मोदी सरकार

जयपुर: 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए राजस्थान कांग्रेस ने अपनी रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है. 8 मार्च को दिल्ली में होने वाली स्क्रीनिंग कमेटी की मीटिंग में उम्मीदवार की लिस्ट को अंतिम रूप दे दिया जाएगा. राज्य के कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने स्पष्ट किया है कि, प्रत्याशियों के चयन के लिए कोई पैरामीटर फिक्स नहीं है. 

महेंद्र कर्मा के बेटे को बनाया डिप्टी कलेक्टर, छत्तीसगढ़ की राजनीति में आया भूचाल

उन्होंने कहा है कि जिताऊ और मजबूत जनाधार वाले नेता को टिकट देना हमारी प्राथमिकता रहेगी. एयर स्ट्राइक के मसले पर पायलट के अपना रुख स्पष्ट करते हुए कहा है कि वे सेना के शौर्य और पराक्रम पर गर्व करते हैं किन्तु केंद्र की मोदी सरकार को इस मुद्दे पर राजनीति नहीं करनी चाहिए. दरअसल, सचिन पायलट आज पीसीसी में प्रेस से रूबरू हुए थे. इस मौके पर सचिन पायलट ने देश में बॉर्डर पर तनाव और पाकिस्तान में हुए हवाई हमले में मारे गए आतंकियों के सबूत के सवाल पर अपना रुख स्पष्ट करते हुए कहा है कि वे भी आर्मी बैकग्राउंड से आते हैं और उन्हें आर्मी के शौर्य और पराक्रम पर पूरा विश्वास है.

कांग्रेस के साथ गठबंधन न होने से भड़की आप, केजरीवाल ने कह दी बड़ी बात

उन्होंने कहा है कि इंडियन एयर फ़ोर्स की तरफ से जो बयान दिया गया है वही अंतिम सत्य है. किन्तु इस मुद्दे पर केंद्र सरकार को राजनीति नहीं करनी चाहिए. कांग्रेस के कार्यकाल में भी सीमाएं महफूज थीं और वर्तमान सरकार भी देश की ओर उठने वाली प्रत्येक चुनौती का मुंहतोड़ जवाब देने का माद्दा रखती है. लोकसभा चुनाव सेना के  पराक्रम के मुद्दे की जगह देश के ज्वलंत मुद्दों पर लड़ा जाना चाहिए.

खबरें और भी:-

सेना का मनोबल तोड़ने में जुटे हुए हैं कांग्रेस के नेता - कानून मंत्री रविशंकर

अखिलेश यादव और जयंत चौधरी कर रहे हैं चर्चा, सपा-बसपा गठबन्धन में क्या रहेगा रालोद का रोल

लोकसभा चुनाव: राहुल गाँधी ने बैठक में लिया बड़ा फैसला,आप के साथ नहीं होगा कोई गठबंधन

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -