सबरीमाला मंदिर : लाखों महिलाओं ने बनाई 600 कि.मी लम्बी मानव श्रृंखला

Jan 02 2019 11:54 AM
सबरीमाला मंदिर : लाखों महिलाओं ने बनाई 600 कि.मी लम्बी मानव श्रृंखला

कुन्नूर : सर्वोच्च न्यायलय के फैसले के बाद भी केरल के सबरीमाला मंदिर में महिलाओं को प्रवेश दिलाने में नाकाम रही राज्य सरकार ने अब सामाजिक अभियान का सहारा लिया है। एलडीएफ सरकार ने मंगलवार को 620 किमी लंबी महिला शृंखला बनाने का आयोजन कराया। लैंगिक समानता के लिए इसमें राज्य के उत्तरी कासरगोड से दक्षिणी छोर तक राष्ट्रीय राजमार्ग के किनारे करीब 35 लाख महिलाओं ने कंधे से कंधा मिलाकर हिस्सा लिया।

सबरीमाला मंदिर में दो महिला भक्तों ने किया दर्शन, तोड़ दी सालों पुरानी परम्परा

कई महिलाएँ हुई शामिल 

सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार केरल की स्वास्थ्य मंत्री ने इस शृंखला का नेतृत्व किया है। वहीं, माकपा की वरिष्ठ नेता इस शृंखला में आखिरी महिला थीं। शाम 4 बजे शुरू हुए इस अभियान में राज्य के 14 जिलों में लेखक, अभिनेता, खिलाड़ी, नेता, गृहणियां और सरकारी अधिकारी भी शामिल हुए। देवास्वम मंत्री ने बताया कि कुछ जिलों में स्कूलों की छुट्टी कर दी गई है। वहीं विश्वविद्यालयों में मंगलवार को होने वाली परीक्षा स्थगित कर दी गई।

सबरीमाला मंदिर: आज बनाएंगी मानव श्रृंखला लाखों महिलाऐं
 
जानकारी के लिए बता दें पिछले साल सितंबर में सुप्रीम कोर्ट ने 10 से 50 वर्ष की आयु की महिलाओं को भगवान अयप्पा स्वामी के मंदिर में प्रवेश की पाबंदी हटा दी थी। हालांकि, भगवान अयप्पा के भक्तों के विरोध के कारण अब तक एक भी महिला मंदिर में प्रवेश नहीं कर सकी है।

2019 ये बड़ा काम करने वाले हैं 'जयकांत शिकरे'

शो नहीं दिल जीतकर ले गए श्रीसंथ, जल्द नजर आएँगे इस फिल्म में

राफेल सौदे पर क्लीन चिट के बाद बिना मतदान वाले नियम पर आज संसद में होगी चर्चा